लाइव टीवी

प्रवासी मजदूरों के लिए अखिल भारतीय स्तर पर हेल्पलाइन नंबर शुरू करेगी सरकार

News18Hindi
Updated: May 21, 2020, 5:55 AM IST
प्रवासी मजदूरों के लिए अखिल भारतीय स्तर पर हेल्पलाइन नंबर शुरू करेगी सरकार
प्रवासी मजदूरों के लिए राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर जारी करेगी सरकार (सांकेतिक फोटो, News18)

दूरसंचार विभाग (Telecom Department) ने मंगलवार को शॉर्ट कोड आवंटन नोट में कहा, ‘‘मुख्य श्रमायुक्त (केंद्रीय) के तहत शॉर्ट कोड 14445 आवंटित किया जा रहा है, जिससे राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर (National Helpline Number) स्थापित किया जा सके."

  • Share this:
नई दिल्ली. सरकार जल्दी ही प्रवासी मजदूरों (Migrant Labourers) के लिए अखिल भारतीय स्तर पर हेल्पलाइन नंबर (Helpline no.) शुरू करने जा रही है. इन नंबर पर प्रवासी मजदूर अपनी समस्याओं, शिकायतों की जानकारी दे सकेंगे. यह हेल्पलाइन नंबर मुख्य श्रमायुक्त के तहत शुरू किया जाएगा. यह टोल-फ्री (Toll-free) नंबर नही होगा.

दूरसंचार विभाग (Telecom Department) ने मंगलवार को शॉर्ट कोड आवंटन नोट में कहा, ‘‘मुख्य श्रमायुक्त (केंद्रीय) के तहत शॉर्ट कोड 14445 आवंटित किया जा रहा है, जिससे राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर (National Helpline Number) स्थापित किया जा सके.

दिल्ली में बनाया जायेगा राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर का केंद्र, क्षेत्रीय स्तर पर भेजी जायेगी शिकायत
दूरसंचार विभाग के आवंटित इस शॉर्ट कोड के जरिए एक राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर स्थापित किया जायेगा. इस नंबर पर आने वाली प्रवासी मजदूरों की कॉल को दिल्ली में सुना जाएगा और उसके बाद इसे संबंधित क्षेत्रीय नियंत्रण कक्ष के पास शिकायत के निपटान के लिए भेज दिया जाएगा.’’ सभी दूरसंचार ऑपरेटरों (Telecom Operators) के लिए इस नंबर पर पहुंच उपलब्ध कराना अनिवार्य होगा.



नहीं होगा टोल-फ्री नंबर, कॉल करने का लगेगा शुल्क


विभाग ने स्पष्ट किया है कि यह टोल-फ्री नंबर नहीं होगा. 14445 पर कॉल करने पर शुल्क लगेगा. दूरसंचार विभाग ने आपात हेल्पलाइन (Helpline) के लिए दो नंबर 1930 और 1944 आवंटित किए हैं.

कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए देशभर में 25 मार्च से लॉकडाउन की घोषणा की गई थी. इस दौरान सभी उद्योग और निर्माण कार्य बंद होने के बाद बड़ी संख्या में मजदूरों का उनके गृह नगर की ओर पलायन देखने को मिला था. इस दौरान कई मजदूरों ने सुदूर राज्यों से अपने गृह नगर की हजारों किमी की दूरी पैदल ही तय की थी. अब भी कई मजदूर कई समस्याओं का सामना कर रहे हैं. ऐसी ही समस्याओं के समाधान के लिए इस हेल्पलाइन की स्थापना की जा रही है.

यह भी पढ़ें: राज्यों के साथ मिलकर चौथे चरण के लॉकडाउन की निगरानी कर रहा है गृह मंत्रालय
First published: May 21, 2020, 5:55 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading