#ResignModi मामला: सरकार ने रिपोर्ट को बताया फर्जी, FB ने कहा- गलती से हुआ ब्लॉक

सरकार ने अपने बयान में वॉल स्ट्रीट जनरल की एक रिपोर्ट का उल्लेख किया है. (फाइल फोटो)

सरकार ने अपने बयान में वॉल स्ट्रीट जनरल की एक रिपोर्ट का उल्लेख किया है. (फाइल फोटो)

#ResignModi Block Case: फेसबुक (Facebook) ने गुरुवार को कहा कि उसने गलती से उस हैशटैग को बाधित किया जिसमें प्रधानमंत्री के इस्तीफे की मांग की जा रही है. कंपनी ने स्पष्ट किया कि यह सरकार के अदेश पर नहीं किया गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 29, 2021, 2:36 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. हाल ही में एक रिपोर्ट आई थी, जिसमें दावा किया जा रहा था कि सोशल मीडिया (Social Media) पर #ResignModi को ब्लॉक करने के लिए भारत सरकार (Government of India) ने कहा था. अब इस मामले पर भारत सरकार ने प्रतिक्रिया दी है. सरकार ने साफ किया है कि यह पूरी तरह से भ्रामक था. सरकार ने इन कोशिशों को 'शरारतपूर्ण और गुमराह' करने वाला बताया है. वहीं, फेसबुक ने भी इस तरह की बात का खंडन किया है. कंपनी ने कहा है कि यह हैशटैग गलती से ब्लॉक हो गया था.

सरकार ने अपने बयान में वॉल स्ट्रीट जनरल की एक रिपोर्ट का उल्लेख किया है. सरकार का कहना है 'यह कहना सही होगा कि 5 मार्च 2021 को भी वॉल स्ट्रीट जनरल ने 'India Threatens Jail for Facebook, Whatsapp and Twitter Employees नाम की हेडलाइन से एक फर्जी खबर प्रकाशित की थी. सरकार ने पूरी तरह फर्जी और निर्मित की गई स्टोरी का आधिकारिक खंडन वॉल स्ट्रीट मीडिया को भेज दिया है.'

फेसबुक ने क्या कहा

समाचार एजेंसी भाषा के अनुसार, फेसबुक ने गुरुवार को कहा कि उसने गलती से उस हैशटैग को बाधित किया जिसमें प्रधानमंत्री के इस्तीफे की मांग की जा रही है. कंपनी ने स्पष्ट किया कि यह सरकार के अदेश पर नहीं किया गया. कंपनी की यह सफाई उन खबरों के बीच आई है जिसमें कहा गया था कि कोरोना वायरस की महामारी से निपटने को लेकर सरकार की आलोचना करने वाले पोस्ट को हटाने का निर्देश दिया गया है.


फेसबुक के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा, ‘हमने गलती से इस हैशटैग को अस्थायी रूप से बंद किया था, न कि भारत सरकार द्वारा हमें ऐसा करने के लिए कहा गया था. हमने इसे बहाल कर दिया है.’ खबरों के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस्तीफे की मांग को लेकर चल रहे हैशटैग को बुधवार को कुछ समय के लिए बाधित कर दिया गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज