Home /News /nation /

Corona Third Wave: सरकार ने तीसरी लहर को लेकर चेताया, कहा- किसी तरह की ढिलाई नहीं कर सकते

Corona Third Wave: सरकार ने तीसरी लहर को लेकर चेताया, कहा- किसी तरह की ढिलाई नहीं कर सकते

देश में एक बार फिर कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने लगे हैं.

देश में एक बार फिर कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने लगे हैं.

Corona Third Wave: पिछले 24 घंटों के आंकड़ों पर नजर दौड़ाएं तो महाराष्‍ट्र (Maharashtra) में कोरोना (Corona) के 4154 नए मामले सामने आए हैं, जबकि केरल (Kerala) में 25010 नए मामले सामने आए हैं. यही कारण है कि अब केंद्र सरकार ने भी साफ कर दिया है कि अब किसी भी तरह की ढिलाई नहीं बरती जा सकती है.

अधिक पढ़ें ...
  • News18Hindi
  • Last Updated :

    नई दिल्‍ली. भारत में तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के मामलों के बीच एक बार फिर तीसरी लहर (Corona Third Wave) की चेतावनी जारी की गई है. महाराष्‍ट्र (Maharashtra) और केरल (Kerala) में जिस रफ्तार से कोरोना (Corona) के मामले सामने आ रहे हैं, उसे देखने के बाद कोरोना की तीसरी लहर की आहट सुनाई देने लगी है. पिछले 24 घंटों के आंकड़ों पर नजर दौड़ाएं तो महाराष्‍ट्र में कोरोना के 4154 नए मामले सामने आए हैं, जबकि केरल में 25010 नए मामले सामने आए हैं. यही कारण है कि अब केंद्र सरकार ने भी साफ कर दिया है कि अब किसी भी तरह की ढिलाई नहीं बरती जा सकती है.

    सरकार की ये चेतावनी ऐसे समय में आई है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना की स्थिति और देश में चल रहे टीकाकरण अभियान पर एक उच्‍च स्‍तरीय बैठक की है. बता दें कि एक दिन पहले ही केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा था कि भारत अब भी कोविड-19 की दूसरी लहर से गुजर रहा है और यह अभी खत्म नहीं हुई है. भूषण ने स्वास्थ्य मंत्रालय की ब्रीफिंग के दौरान कहा था कि 35 जिले अभी भी ऐसे हैं, जहां कोविड की साप्ताहिक सकारात्मकता दर 10 प्रतिशत से अधिक है, जबकि 30 जिलों में यह दर पांच से 10 प्रतिशत के बीच है.

    कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच सरकार ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोविड इमरजेंसी रिस्‍पांस पैकेज दो के तहत बाल चिकित्सा देखभाल और अन्य सुविधाओं के लिए बिस्तर क्षमता में वृद्धि की स्थिति की समीक्षा की. इसके साथ ही राज्‍यों को सलाह दी गई है कि वह ग्रामीण क्षेत्रों में प्रथामिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्रों और ब्‍लॉक स्‍तर के स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं की ओर ध्‍यान दें. बता दें कि विशेषज्ञों ने अक्‍टूबर में भारत में कोरोना की तीसरी लहर की चेतावनी जारी की है.

    इसे भी पढ़ें :- COVID-19 : वैक्सीन की दोनों डोज़ ले चुके लोगों में कोरोना से मौत का खतरा 11 गुना कम- अमेरिकी अधिकारी

    सरकार की ओर से राज्‍यों को सलाह दी गई है कि जिला स्‍तर पर कोविड-19, म्यूकरमाइकोसिस, एमआईएस-सी (बच्चों के गंभीर रोग) के प्रबंधन में इस्तेमाल होने वाली दवाओं का बफर स्‍टॉक बनाकर रखें. बयान में साफ तौर पर कहा गया है कि महाराष्‍ट्र और केरल में जिस तरह की स्थिति बनी हुई है वह तीसरी लहर की चेतावनी को सही साबित कर सकती है.

    इसे भी पढ़ें :- मेघालय के विधायक की कोरोना से मौत, अभी तक नहीं लगवाई थी एक भी वैक्‍सीन

    देश में 24 घंटे में आए 33,376 नए केस, 330 की मौत
    स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में देश में कोरोना संक्रमण के 33 हजार 376 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 380 मरीजों की मौत हुई है. कोरोना के नए मरीज मिलने के बाद अब देश में कुल संक्रमितों की संख्‍या 3 करोड़ 32 लाख 8 हजार 330 हो गई है.देश में अब तक कोरोना से 3 लाख 91 हजार 516 एक्टिव केस हैं, जबकि 3 करोड़ 23 लाख 74 हजार 497 लोग ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं. वहीं अब तक कोरोना से 4 लाख 42 हजार 317 लोगों की मौत हो चुकी है.

    Tags: Corona, Corona third wave, Coronavirus, Ministry of Health, Prime Minister Narendra Modi

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर