डेटा चोरी मामलाः फेसबुक का जवाब साझा करने से सरकार का इनकार

सरकार ने कहा कि मिले हुए जवाब को साझा नहीं किया जा सकता क्योंकि कंपनियों ने गोपनीयता की शर्त के साथ अपना जवाब भेजा.

भाषा
Updated: July 15, 2018, 11:51 PM IST
डेटा चोरी मामलाः फेसबुक का जवाब साझा करने से सरकार का इनकार
प्रतीकात्मक तस्वीर
भाषा
Updated: July 15, 2018, 11:51 PM IST
सोशल मीडिया नेटवर्क फेसबुक द्वारा कैंब्रिज एनालिटिका को लोगों की सूचनाएं उपलब्ध कराने से जुड़े विवाद में भारत सरकार ने फेसबुक को जो नोटिस भेजा था उसके जवाब की प्रति को सरकार ने आरटीआई के तहत उपलब्ध कराने से नामंज़ूर कर दिया है. सरकार का  कहना है कि फेसबुक ने वह सूचना गोपनीयता की शर्त के साथ उपलब्ध कराई है.

पीटीआई ने आरटीआई के तहत आवेदन करके यह जानकारी मांगी थी, पर इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने कहा, ‘‘मिले हुए जवाब को साझा नहीं किया जा सकता क्योंकि कंपनियों ने गोपनीयता की शर्त के साथ अपना जवाब भेजा. कंपनी ने अपने पत्र में दी गई सूचनाओं को गोपनीय मानने का आग्रह किया है और कहा है कि उसने उसे आधिकारिक प्रयोग के लिए दिया है.’’

ये भी पढ़ेंः कैम्ब्रिज एनालिटिका स्कैंडल में Facebook पर लगेगा 4.56 करोड़ रुपये का जुर्माना

आरटीआई के ज़रिए मंत्रालय से फेसबुक और कैंब्रिज एनालिटिका को भेजे गये नोटिस के जवाब की प्रतिलिपि मांगी गई थी. फेसबुक ने सरकार के नोटिस की प्रतिक्रिया में कहा था कि भारत के महज 335 लोग ही एक ऐप इंस्टॉल करने से सीधे तौर पर प्रभावित हुए और इन उपभोक्ताओं के साथ जुड़े होने के कारण 5,62,120 लोग इससे आंशिक तौर पर प्रभावित हुए.

ये भी पढ़ेंः Facebook ने कबूला, इन 4 चाइनीज कंपनियों को बेचा डेटा

उपभोक्ताओं की जानकारियों के दुरुपयोग जैसी घटना को आगे रोकने के लिए सरकार द्वारा उठाए गए कदम के बारे में पूछे जाने पर मंत्रालय ने कहा कि उसने देश में सूचना की चोरी को रोकने के लिए रूपरेखा तैयार करने के लिए एक विशेषज्ञ समिति का गठन किया है.

आरटीआई आवेदन के जवाब में मंत्रालय ने कहा, ‘‘यह एक जारी प्रयास है. सरकार ने देश में सूचना संरक्षण रूपरेखा तैयार करने के लिए एक विशेषज्ञ समिति गठित की है और इसकी रिपोर्ट जल्द ही आने की संभावना है.’’

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 15, 2018, 9:08 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...