लाइव टीवी

लेखक आतिश अली तासीर का OCI कार्ड सरकार ने किया रद्द, छिपाई थी पाकिस्तानी पिता से जुड़ी जानकारी

News18Hindi
Updated: November 8, 2019, 12:22 PM IST
लेखक आतिश अली तासीर का OCI कार्ड सरकार ने किया रद्द, छिपाई थी पाकिस्तानी पिता से जुड़ी जानकारी
लेखक आतिश अली तासीर का ओसीआई कार्ड सरकार ने रद्द कर दिया है.

लेखक (writer) आतिश अली तासीर (Aatish Ali Taseer) पर आरोप है कि उन्होंने कथित तौर पर गृह मंत्रालय (Ministry of Home Affairs) से ये बात छिपाई कि उनके पिता पाकिस्तानी मूल के थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 8, 2019, 12:22 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. ब्रिटेन में जन्मे लेखक आतिश अली तासीर (Aatish Ali Taseer) का ओवरसीज सिटिजन ऑफ इंडिया कार्ड (Overseas Citizen of India Card) गृह मंत्रालय की ओर से रद्द कर दिया गया है. आतिश अली पर आरोप है कि उन्होंने गृह मंत्रालय (Ministry of Home Affairs) से ये बात छिपाई कि उनके पिता पाकिस्तानी मूल के थे. गृह मंत्रालय ने परिवार से जुड़ा अहम तथ्य छिपाने के कारण यह कदम उठाया है.

गृह मंत्रालय की ओर से ट्वीट में यह जानकारी दी गई है कि नागरिकता अधिनियम 1955 के तहत, लेखक आतिश अली तासीर ओसीआई कार्ड (OCI Card) के लिए अयोग्य हो गए हैं. उन्होंने स्पष्ट रूप से इसके मूलभूत नियमों का अनुपालन नहीं किया है और जानकारी छिपाई है.



मंत्रालय के प्रवक्ता ने एक अन्य ट्वीट में यह स्पष्ट किया है कि आतिश अली तासीर ने PIO आवेदन में यह बात छिपाई है कि उनके पिता पाकिस्तानी मूल के थे.
Loading...




देनी होती है माता-पिता की राष्ट्रीयता की जानकारी
ओसीआई कार्ड (OCI Card) के लिए तय आवेदन फॉर्म में यह बताना अनिवार्य है कि आवेदक के माता-पिता की राष्ट्रीयता क्या है. साथ ही उनका व्यवसाय भी बताना होता है.

नहीं दिया नोटिस का जवाब
सरकार के अनुसार उसने आतिश अली तासीर को PIO/OCI कार्ड से जुड़ी आपत्तियों का जवाब देने के लिए नोटिस और समय दिया था, लेकिन वे इसका उचित जवाब नहीं दे सके.

हालांकि, आतिश अली तासीर का कहना है कि उन्हें 21 दिन का नहीं, बल्कि 24 घंटे के अंदर नोटिस का जवाब देने के लिए कहा गया था. उसके बाद मंत्रालय ने इसपर आगे कोई बात नहीं की.



बता दें कि नागरिकता अधिनियम के अनुसार, अगर किसी व्यक्ति ने धोखे से या तथ्य छिपाकर ओसीआई कार्ड हासिल किया है तो सरकार इस संबंध में जानकारी मिलते ही उस व्यक्ति को नोटिस जारी कर जवाब मांग सकती है और संतुष्ट न होने पर ओसीआई कार्डधारक के रूप में उसका पंजीकरण रद्द कर सकती है.

इसी के साथ ही ऐसे व्यक्ति को काली सूची में भी डाला जा सकता है. काली सूची में डाले जाने का मतलब है कि उस व्यक्ति को भविष्य में भारत में प्रवेश करने से रोक दिया जाएगा. बता दें कि तासीर पाकिस्तान के दिवंगत नेता सलमान तासीर और भारतीय पत्रकार तवलीन सिंह के बेटे हैं.

इसे भी पढ़ें :- 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 8, 2019, 9:47 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...