सीरम और भारत बायोटेक से केंद्र ने कहा- कोरोना वैक्सीन की कीमत कम करें

कोविशील्ड और कोवैक्सीन का इस्तेमाल टीकाकरण कार्यक्रम के लिए हो रहा है. फाइल फोटो

कोविशील्ड और कोवैक्सीन का इस्तेमाल टीकाकरण कार्यक्रम के लिए हो रहा है. फाइल फोटो

India gears up to inoculate all aged above 18: देश में 1 मई से 18 साल से ऊपर के लोगों के लिए टीकाकरण अभियान को खोला जा रहा है.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वैक्सीन के कीमतों पर मचे घमासान के बीच केंद्र सरकार ने सीरम इंस्टीट्यूट और भारत बायोटेक से अपनी-अपनी वैक्सीन की कीमत घटाने को कहा है. पीटीआई ने सरकारी सूत्रों के हवाले से बताया है कि सरकर ने दोनों कंपनियों को कीमत में कमी करने को कहा है. बता दें कि कई राज्य सरकारें और विपक्षी दल वैक्सीन की कीमत को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साध रहे हैं.

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) ने कहा है कि कोविड-19 टीका ‘कोविशील्ड’ की कीमत राज्य सरकारों के लिए 400 रुपये प्रति खुराक और निजी अस्पतालों के लिए 600 रुपये प्रति खुराक होगी. कंपनी के CEO ने यह भी कहा कि 150 रुपये प्रति खुराक का मौजूदा अनुबंध समाप्त होने के बाद केंद्र सरकार के लिये भी दर 400 रुपये प्रति खुराक होगी. बता दें कि देश में 1 मई से 18 साल से ऊपर के लोगों के लिए टीकाकरण अभियान को खोला जा रहा है.

Youtube Video


कोवैक्सीन की कीमत क्या है?
भारत बायोटेक ने कोवैक्सीन की कीमत राज्य सरकारों के लिए प्रति डोज 600 रुपये रखा है, वहीं प्राइवेट अस्पतालों के लिए प्रति डोज कीमत 1200 रुपये रखी गई है. कंपनी के चेयरमैन कृष्णा एम. एल्ला ने एक बयान में कहा कि भारत बायोटेक केंद्र सरकार को 150 रुपये की कीमत में वैक्सीन दे रही है. निर्यात के लिए कंपनी ने वैक्सीन की कीमत 15 से 20 डॉलर के बीच रखा है.

किन राज्यों ने किया फ्री टीकाकरण का ऐलान

हालिया रिपोर्ट्स की मानें तो देश के 17 राज्यों ने अपने लोगों के लिए मुफ्त टीकाकरण का ऐलान किया है. इन राज्यों में मध्य प्रदेश, जम्मू एंड कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, गोवा, केरल, छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, असम, सिक्किम, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और हरियाणा शामिल हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज