Home /News /nation /

20 हजार एनजीओ का एफसीआरए लाइसेंस रद्द, नहीं ले सकेंगे विदेशों से चंदा

20 हजार एनजीओ का एफसीआरए लाइसेंस रद्द, नहीं ले सकेंगे विदेशों से चंदा

File Photo : PTI

File Photo : PTI

गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि करीब 20 हजार एनजीओ के एफसीआरए लाइसेंस रद्द किए जाने के बाद अब देश में सिर्फ 13 हजार एनजीओ कानूनी तौर पर मान्य हैं.

  • Bhasha
  • Last Updated :
    केंद्र सरकार ने 33 हजार गैर-सरकारी संगठनों (एनजीओ) में से करीब 20 हजार संगठनों के लाइसेंस रद्द कर दिए हैं. सरकार ने यह कार्रवाई तब की जब पाया गया कि वे एनजीओ विदेशी चंदा नियमन कानून (एफसीआरए) के विभिन्न प्रावधानों का कथित तौर पर उल्लंघन कर रहे हैं. जिन एनजीओ का एफसीआरए लाइसेंस रद्द किया गया है, वे अब विदेशी चंदा नहीं ले सकेंगे.

    केंद्रीय गृह मंत्रालय के विदेशी प्रभाग की समीक्षा बैठक के दौरान मंगलवार को गृह मंत्री राजनाथ सिंह को यह जानकारी दी गई. विस्तार से जानकारी देते हुए गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने उन्हें बताया कि करीब 20 हजार एनजीओ के एफसीआरए लाइसेंस रद्द किए जाने के बाद अब देश में सिर्फ 13 हजार एनजीओ कानूनी तौर पर मान्य हैं.

    मंत्रालय को पहली बार मिले दो हजार आवेदन

    आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सारे एनजीओ के कामकाज की समीक्षा की कवायद करीब एक साल पहले शुरू हुई थी और यह प्रक्रिया अब भी चल रही है. करीब 13 हजार मान्य एनजीओ में से करीब तीन हजार ने लाइसेंस के नवीनीकरण के आवेदन किए हैं. गृह मंत्रालय को पहली बार एफसीआरए के तहत पंजीकरण के लिए दो हजार नए आवेदन मिले हैं.

    एनजीओ के दस्तावेजों की जांच जारी

    इनके अलावा तीन सौ एनजीओ फिलहाल पूर्व अनुमति श्रेणी के दायरे में हैं, लेकिन एफसीआरए के तहत वे पंजीकृत नहीं हैं. बहरहाल, गृह मंत्रालय ने ‘ऑटोमेटिक रूट’ के तहत करीब 16 एनजीओ के एफसीआरए लाइसेंसों का नवीनीकरण किया. सारे मामलों की गहन समीक्षा की गई और दो मामलों को छोड़कर 14 एनजीओ को पूर्व अनुमति श्रेणी में रखा गया है, जबकि दो एनजीओ के दस्तावेजों की जांच जारी है.

    एफसीआरए के तहत अगर कोई एनजीओ पूर्व अनुमति लेना आवश्यक किये जाने की श्रेणी में है तो वह गृह मंत्रालय की इजाजत के बगैर विदेश से पैसे हासिल नहीं कर सकता .

    Tags: Rajnath Singh

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर