अगले हफ्ते बाजार में आएगी रूस की कोरोना वैक्सीन स्पूतनिक, सरकार का ऐलान

स्‍पूतनिक अगले हफ्ते से बाजार में आएगी. (File pic)

स्‍पूतनिक अगले हफ्ते से बाजार में आएगी. (File pic)

Sputnik Vaccine: नीति आयोग के सदस्‍य डॉ. वीके पॉल ने कहा, 'मुझे यह कहने में खुशी हो रही है कि हम आशांवित हैं कि अगले हफ्ते से यह बाजार में उपलब्‍ध होगी.'

  • Share this:

नई दिल्‍ली. देश में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) के बढ़ते मामलों के बीच टीकाकरण अभियान (Corona Vaccination) भी तेजी से बढ़ रहा है. इसके लिए सरकार अब विदेश से भी कोरोना वैक्‍सीन (Corona Vaccine) मंगा रही है. इस बीच नीति आयोग (Niti Aayog) ने गुरुवार को जानकारी दी है कि रूस की कोरोना वैक्‍सीन स्‍पूतनिक भारत आ रही है. नीति आयोग के सदस्‍य डॉ. वीके पॉल ने कहा, 'मुझे यह कहने में खुशी हो रही है कि हम आशांवित हैं कि अगले हफ्ते से स्‍पूतनिक (Sputnik) बाजार में उपलब्‍ध होगी.'

डॉ. वीके पॉल ने कहा, 'हम रूस से आई हुई तय मात्रा में स्‍पूतनिक वैक्‍सीन की बिक्री के अगले हफ्ते से शुरू होने की आशा करते हैं. उन्‍होंने कहा कि आगे भी सप्‍लाई को लेकर प्रयास जारी रहेंगे. स्‍पूतनिक वैक्‍सीन का उत्‍पादन जुलाई से शुरू होगा. ऐसा आकलन है कि उस समय वैक्‍सीन की 15.6 करोड़ डोज बनाई जाएंगी.'

डॉ. पॉल ने कहा कि भारत में करीब 18 करोड़ के आसपास कोरोना वैक्‍सीन की डोज लगाई जा चुकी हैं. अमेरिका में यह आंकड़ा 26 करोड़ के आसपास है. ऐसे में भारत तीसरे स्‍थान पर है.

उन्‍होंने कहा कि हम खुश हैं कि भारत में 45 साल से अधिक उम्र के एक तिहाई लोग वैक्‍सीन लगने के बाद सुरक्षित हैं. देश में मरने वाले कुल लोगों में 45 और उसे अधिक उम्र के लोगों की हिस्‍सेदारी 88 फीसदी है.
डॉ. पॉल ने कहा कि लोगों ने कहा कि कोवैक्‍सिन को दूसरी कंपनियों को उत्‍पादन के लिए दिया जाए. मुझे यह कहते हुए खुशी हो रही है कि भारत बायोटेक ने इसका स्‍वागत किया है, हमने इस बारे में उनसे बात की. यह वैक्‍सीन केवल बीएसएल3 लैब में बन सकती है.


उन्‍होंने कहा कि हर कंपनी के पास ऐसी व्‍यवस्था नहीं है. हमने इस प्रक्रिया के लिए उन कंपनियों को खुला आमंत्रण दिया है जो ऐसा करना चाहती हैं. जो कंपनियां कोवैक्सिन बनाना चाहती हैं, वे इस साथ मिलकर बनाएंगी. इसमें सरकार भी मदद करेगी ताकि उत्‍पादन क्षमता बढ़ सके.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज