वृहत हैदराबाद के लिए चुनाव कार्यक्रम जारी, 1 दिसंबर को होगा मतदान

चुनाव कार्यक्रमों के अनुसार नामांकन की प्रक्रिया 18 नवंबर से शुरू होकर 20 नवंबर तक चलेगी और इनकी जांच 21 नवंबर को होगी.
चुनाव कार्यक्रमों के अनुसार नामांकन की प्रक्रिया 18 नवंबर से शुरू होकर 20 नवंबर तक चलेगी और इनकी जांच 21 नवंबर को होगी.

GHMC Election: जीएचएमसी चुनाव में मत पत्र का प्रयोग होगा क्योंकि इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के बारे में कुछ आपत्तियां उठायी गई हैं और ये मत पत्र उजले रंग के होंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 17, 2020, 9:33 PM IST
  • Share this:
(पीवी रमना)

हैदराबाद.
तेलंगाना राज्य चुनाव आयोग (Telangana State Election Commision) ने वृहत्त हैदराबाद नगर निगम (Greater Hyderabad Municipal Corporation) के चुनावों का कार्यक्रम जारी कर दिया है. चुनाव आयुक्त पार्थसारथी ने आज हैदराबाद (Hyderabad) में चुनाव कार्यक्रमों को जारी किया. चुनाव कार्यक्रमों के अनुसार नामांकन की प्रक्रिया 18 नवंबर से शुरू होकर 20 नवंबर तक चलेगी और इनकी जांच 21 नवंबर को होगी. उम्मीदवार 24 नवंबर तक अपना नाम वापस ले पाएंगे और मतदान 1 दिसंबर को होगा. अगर ज़रूरत हुई तो पुनर्मतदान 3 दिसंबर को होगा. वोटों की गिनती 4 दिसंबर को होगी और उसी दिन परिणाम घोषित कर दिए जाएंगे.

चुनाव आयोग ने कहा, “जीएचएमसी की शासकीय निकाय की अवधि फ़रवरी 2021 को समाप्त हो रही है और उस समय तक नई शासकीय निकाय का चुनाव हो जाएगा और यह कार्यभार संभाल लेगा”. उन्होंने यह भी कहा कि चुनाव 2016 में घोषित आरक्षण के आधार पर कराए जाएंगे. पार्थसारथी ने स्पष्ट किया कि जीएचएमसी चुनाव में मत पत्र का प्रयोग होगा क्योंकि इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के बारे में कुछ आपत्तियां उठायी गई हैं और ये मत पत्र उजले रंग के होंगे. उन्होंने कहा कि जीएचएमसी के तहत चुनावी संहिता तत्काल प्रभाव से लागू हो जाएगा.



ये भी पढ़ें- यूपी में 23 नवंबर से खुलेंगे सभी विश्वविद्यालय-कॉलेज, Covid प्रोटोकॉल का करना होगा पालन
5 लाख रुपये तक की राशि खर्च कर सकेंगे उम्मीदवार
इसके अलावा, एसईसी ने बताया कि इस चुनाव के लिए 55,000 कर्मचारियों को उपलब्ध कराया जाएगा और उम्मीदवार इस चुनाव में ₹5 लाख तक की राशि खर्च कर सकेंगे.

इस चुनाव के लिए 9248 मतदान केंद्र बनाए जाएंगे और राज्य चुनाव आयोग ने 257 मतदान केंद्रों को महत्त्वपूर्ण, 1,004 को अति संवेदनशील और 1439 को संवेदनशील घोषित किया है. चुनाव में भाग लेनेवाले उम्मीदवारों में एससी, एसटी और बीसी को ₹2500 जमा कराने होंगे जबकि अन्य उम्मीदवारों को ₹5000 देना होगा.

“ऑनलाइन भी नामांकन किया जा सकेगा. इस बार मतदान के प्रतिशत में सुधार के लिए सभी तरह के इंतज़ाम किए गए हैं. हम सफलतापूर्वक चुनाव कराने के लिए पुलिस और अन्य विभागों की मदद ले रहे हैं,” चुनाव आयुक्त पार्थसारथी ने कहा.

ये भी पढ़ें- BRICS समिट में मोदी का PAK पर निशाना, कहा-आतंक के मददगार देश भी माने जाएं दोषी

महिला के लिए आरक्षित है मेयर का पद
आरक्षण के अनुसार, इस बार जीएचएमसी के मेयर का पद महिला (सामान्य वर्ग) के लिए आरक्षित है और 150 पार्षदों में से एसटी-2 (सामान्य 1, महिला 1), एससी-10 (सामन्य 5, महिला 5), बीसी-50 (सामान्य 25, महिला 25), सामान्य महिला 44 और सामान्य वर्ग के पद 44 होंगे.

अंतिम मतदाता सूची के अनुसार जीएचएमसी की सीमा में 74,04,286 मत हैं जिसमें पुरुष मतदाताओं की संख्या 38,56, 770 और महिला मतदाताओं की संख्या 35,46,847 है जबकि अन्य मतदाताओं की संख्या 669 है.

मयलरदेव पल्ली सबसे बड़ा संभाग है जहां कुल मतदाताओं की संख्या 79,290 है जबकि राम चंद्र पुरम में मतदाताओं की संख्या 27,948 है.



सभी राजनीतिक पार्टियाँ इस चुनाव को एक चुनौती के रूप में ले रहे हैं और चुनाव जीतने के सारे प्रयास कर रहे हैं.​
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज