लाइव टीवी

भारतीय सेना ने ऐसे तबाह किए आतंकियों के ठिकाने, पढ़ें पूरी कहानी

News18Hindi
Updated: October 22, 2019, 6:29 PM IST
भारतीय सेना ने ऐसे तबाह किए आतंकियों के ठिकाने, पढ़ें पूरी कहानी
एलओसी के पास आतंकी घुसपैठ करने की कोशिश कर रहे थे.

भारतीय सेना (Indian Army) प्रमुख जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) ने रविवार को कहा था कि जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के तंगधार (Tungdhar) और केरन (Keran) सेक्टर के दूसरी तरफ भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में छह से 10 पाकिस्तानी सैनिक (Pakistani Army) मारे गए और तीन आतंकवादी शिविर नष्ट कर दिये गए।

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 22, 2019, 6:29 PM IST
  • Share this:
(मनोज गुप्ता)

नई दिल्ली. भारतीय सेना (India Army) ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (Pakistan) में रविवार को आतंकियों के लॉन्च पैड्स को निशाना बनाकर बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया था. भारतीय सेना का ये कदम अनुच्छेद 370 (Article 370) के हटाए जाने के बाद घाटी में अशांति फैलने और सर्दियों में होने वाली घुसपैठ को रोकने के लिए बेहद जरूरी माना जा रहा है.

सूत्रों के मुताबिक भारतीय खुफिया एजेंसियों ने कश्मीर (Kashmir) में आतंकियों की घुसपैठ को रोकने के लिए साफ निर्देश दिए थे. एजेंसियों को जानकारी मिली थी कि सीमा पार से आतंकी समूह इस महीने हर हाल में ज्यादा से ज्यादा आतंकियों की घुसपैठ करने की फिराक में हैं.

चार आतंकी लॉन्च पैड्स तबाह

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) ने रविवार को कहा भारतीय सेना ने पीओके की नीलम घाटी में ऐसे तीन आतंकी लॉन्च पैड्स को ध्वस्त कर दिया वहीं तोपखाने की भारी आग के चलते चौथे लॉन्च पैड को काफी नुकसान पहुंचा है.

सूत्रों ने जानकारी दी कि लाइन ऑफ कंट्रोल के निकट बने इन लॉन्च पैड्स में आतंकी समूह पिछले महीने से नए आतंकियों की भर्तियां कर रहे थे. अक्टूबर के पहले हफ्ते में मिली थी कि जमीनी खुफिया जानकारी के मुताबिक वहां- जैश-ए-मोहम्मद, लश्कर-ए-तयैबा और अल बद्र के कई आतंकी वहां मौजूद हैं. इन आतंकियों के लॉन्च पैड्स की जीपीएस लोकेशंस दिल्ली और श्रीनगर में सेना के साथ शेयर की गई थी.

ऐसे हुई आतंकियों की पहचान
Loading...

सरकारी अधिकारियों ने कहा कि एक बार जीपीएस लोकेशंस मिलने के बाद सुरक्षा पुख्ता की गई. इन जगहों पर सेटेलाइट्स को सेट किया और उनके गतिविधियों पर नजर रखनी शुरू कर दी. उन्होंने बताया कि इससे मालूम हुआ कि ये आतंकी ही थे क्योंकि सामान्य नागरिकों और आतंकियों की गतिविधियां काफी अलग होती हैं.

भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने रविवार को कहा था कि जम्मू कश्मीर के तंगधार और केरन सेक्टर के दूसरी तरफ भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में छह से 10 पाकिस्तानी सैनिक मारे गए और तीन आतंकवादी शिविर नष्ट कर दिये गए.

रावत ने कहा था कि भारतीय सैनिकों की कार्रवाई में एक अन्य आतंकी शिविर को गंभीर नुकसान पहुंचा. साथ ही, नियंत्रण रेखा के दूसरी तरफ आतंकवादियों के बुनियादी ढांचे को खासा नुकसान पहुंचा है.

भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने रविवार को कहा था कि जम्मू कश्मीर के तंगधार और केरन सेक्टर के दूसरी तरफ भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में छह से 10 पाकिस्तानी सैनिक मारे गए और तीन आतंकवादी शिविर नष्ट कर दिये गए.

आधी रात को एंबुलेंस में शव ले गया था पाकिस्तान
रावत ने कहा था कि भारतीय सैनिकों की कार्रवाई में एक अन्य आतंकी शिविर को गंभीर नुकसान पहुंचा. साथ ही, नियंत्रण रेखा के दूसरी तरफ आतंकवादियों के बुनियादी ढांचे को खासा नुकसान पहुंचा है. सरकारी सूत्रों ने आधिकारिक आंकड़े पेश करते हुए बताया कि इस कार्रवाई में 18 आतंकी ढेर किए गए वहीं पाकिस्तानी सेना के 12 जवान मार गिराए गए. उन्होंने बताया कि इस दौरान 6 आम नागरिकों की भी जान चली गई.

पाकिस्तानी सेना आधी रात को इन शवों के एंबुलेंस के जरिए वहां से ले गई.

हालांकि इसके बावजूद भी पाकिस्तान ने भारत के लॉन्च पैड को तबाह करने के भारत के दावे को खारिज कर दिया. पाकिस्तान का कहना था कि भारत अपने दावे को “साबित” करने के लिए कथित आतंकी शिविरों तक किसी विदेशी राजनयिक या मीडिया को ले जा सकता है.

ये भी पढ़ें-
PoK में पाक के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग, अवैध कब्जे के विरोध में किया प्रदर्शन

भारत के खिलाफ बड़ी साजिश रच रहा PAK! LoC की तरफ भेजे टैंक, तैनात किए सैनिक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 22, 2019, 6:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...