छात्रों ने रचा नकल का इतिहास, 959 बच्चों ने लिख डाला एक जैसा जवाब

गुजरात बोर्ड के अधिकारी ने बताया कि 12वीं परीक्षा की अंग्रेजी साहित्य, इकोनॉमिक्स, अकाउंट की उत्तर पुस्तिका की जांच की गई तो सभी छात्रों के एक जैसे उत्तर लिखे मिले.

News18Hindi
Updated: July 16, 2019, 5:23 PM IST
छात्रों ने रचा नकल का इतिहास, 959 बच्चों ने लिख डाला एक जैसा जवाब
गुजरात बोर्ड परीक्षा में 959 छात्रों ने लिख डाला एक जैसा जवाब. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
News18Hindi
Updated: July 16, 2019, 5:23 PM IST
गुजरात में सामूहिक नकल का एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसे देखकर गुजरात सेकेंडरी एंड हायर सेकेंडरी एजुकेशन बोर्ड (GSHSEB) के अधिकारी भी दंग रह गए. बोर्ड ने जब ‘बेटियां घर का चिराग" विषय पर निबंध लिखने को कहा तो 959 छात्रों ने एक जैसा जवाब लिख डाला. गुजरात बोर्ड के इतिहास में यह पहला सबसे बड़ा सामूहिक नकल का मामला सामने आया है. GSHSEB ने मामले में जांच के आदेश दिए हैं.

बोर्ड ने इन सभी छात्रों के रिजल्ट को 2020 तक रोक दिया है और जिन विषयों में कथित रूप से नकल की गई, उनमें फेल कर दिया है. बोर्ड के एक अधिकारी के मुताबिक, जिन सेंटरों पर नकल की शिकायत मिली थी, उनकी उत्तर पुस्तिका जांची गई हैं. ये सेंटर गिर सोमनाथ और जूनागढ़ जिले में हैं.

959 छात्रों ने लिखा एक जैसा निबंध
अधिकारी ने बताया कि इन सेंटर्स की अंग्रेजी साहित्य, इकोनॉमिक्स, अकाउंट की उत्तर पुस्तिका की जांच की गई तो सभी छात्रों के एक जैसे उत्तर लिखे मिले. ‘बेटियां घर का चिराग’ पर निबंध भी शुरू से अंत तक एक जैसा लिखा हुआ था. सबने एक ही गलती की हुई थी.

इन परीक्षा केंद्रों को रद करने की तैयारी
अधिकारी ने आगे कहा कि अब GSHSEB अमरापुर, प्राची-पिपला (गिर सोमनाथ) और विसानवेल (जूनागढ़) में 12वीं की परीक्षा के केंद्रों को रद करने की तैयारी कर रहा है. सामूहिक नकल की पुष्टि के लिए छात्रों से बातचीत में अधिकारियों को पता चला कि परीक्षा केंद्रों पर शिक्षकों ने यह उत्तर लिखवाए थे. बोर्ड ने इन सभी 959 परीक्षार्थियों के रिजल्ट को रोकने का फैसला किया है.

ये भी पढ़ें- कश्मीर घाटी ने देश को दिए आतंकियों से 100 गुना ज्यादा रक्षक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 16, 2019, 4:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...