Assembly Banner 2021

कोरोना वायरस : हल्के लक्षण वाले घर में हो सकते हैं आइसोलेट, सरकार ने रखी ये 7 शर्तें

देशभर में कोरोना के मरीजों की संख्या 29435 हो गई है.

देशभर में कोरोना के मरीजों की संख्या 29435 हो गई है.

ये गाइडलाइन उन मरीजों के लिए है जिन्हें कोरोना के बहुत हल्के लक्षण ( Mild Symptomatic) हैं. ऐसे लक्षणों वाले मरीज अब खुद को घर में ही आइसोलेट कर सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 28, 2020, 3:30 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित मरीजों का आंकड़ा लगातार तेजी से बढ़ रहा है. अब तक 29 हज़ार से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं. जबकि 934 लोगों की मौत हो चुकी है. इस बीच स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना के मरीजों के लिए होम आइसोलेशन की नई गाइडलाइंस जारी की हैं. ये गाइडलाइन उन मरीजों के लिए हैं जिन्हें कोरोना के बहुत हल्के लक्षण हैं. ऐसे लक्षणों वाले मरीज अब खुद को घर में ही आइसोलेट कर सकते हैं. इससे पहले ऐसे मरीज को भी हालत देखकर हॉस्पिटल में भर्ती किया जाता था.

घर में आइसोलेट होने वालों के लिए शर्ते...
1. वो मरीज जिसे डॉक्टर ने कहा कि उनमें हल्के लक्षण हैं. या फिर वो मरीज जिसमें शुरूआती लक्षण हो
2. खुद को घर में आइसोलेट करने के लिए सारी सुविधाएं होनी चाहिए. इसके अलावा परिवार के बाकी सदस्यों को भी क्वारंटाइन करने की भी सुविधा हो.
3. मरीज की देखभाल करने वाला कोई एक शख्स होना चाहिए जो 24 घंटे उसके साथ हो. इसके अलावा इस शख्स को आइसोलेशन के दौरान हॉस्पिटल के संपर्क में रहना होगा. जिससे कि जरूरत पड़ने पर डॉक्टर को बुलाया जा सके.
4. मरीज की देखभाल करने वाले और मरीज के करीबी संपर्क में रहने वाले लोगों को डॉक्टर की सलाह से हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा लेनी होगी.


5.मरीज को अपने मोबाइल पर आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करना पड़ेगा, जिससे कि सरकार उस पर नजर रख सके.
6.मरीज को अपने स्वास्थ्य के बारे में डिस्ट्रिक्ट सर्विलांस ऑफिसर को लगातार जानकारी देनी होगी.
7.इसके अलावा मरीज को गाइडलाइंस फॉलो करने की अंडरटेकिंग भी देनी होगी.

ये भी पढ़ें:-

80 जिलों में 7 दिनों में नहीं आया कोई नया कोरोना केस, जानें अपने राज्य का हाल

Microsoft Teams पर बड़ा खतरा! हैकर्स GIF के ज़रिए चुरा रहे हैं निजी जानकारियां
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज