होम /न्यूज /राष्ट्र /Raopura Assembly Election 2022: रावपुरा सीट BJP का बड़ा गढ़, 27 साल से कांग्रेस नहीं जीती कोई चुनाव, जानें स‍ियासी समीकरण

Raopura Assembly Election 2022: रावपुरा सीट BJP का बड़ा गढ़, 27 साल से कांग्रेस नहीं जीती कोई चुनाव, जानें स‍ियासी समीकरण

रावपुरा व‍िधानसभा सीट पर भाजपा का लंबे समय से वर्चस्‍व कायम है. इस सीट से भाजपा 1995 से लगातार जीत दर्ज करती आ रही है.

रावपुरा व‍िधानसभा सीट पर भाजपा का लंबे समय से वर्चस्‍व कायम है. इस सीट से भाजपा 1995 से लगातार जीत दर्ज करती आ रही है.

Raopura Assembly Election: रावपुरा व‍िधानसभा सीट पर भाजपा का लंबे समय से वर्चस्‍व कायम है. इस सीट से भाजपा 1995 से लगात ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

1985 में आखिरी चुनाव जीती थी कांग्रेस पार्टी
इस सीट से भाजपा ने जीते लगातार 6 चुनाव
जनता दल ने भी 1990 में यहां पर फहराया व‍िजय पताका

रावपुरा. गुजरात के वडोदरा ज‍िले (Vadodara District) की रावपुरा व‍िधानसभा सीट (Raopura Assembly Seat) पर भाजपा का लंबे समय से वर्चस्‍व कायम है. इस सीट से भाजपा 1995 से लगातार जीत दर्ज करती आ रही है. रावपुरा व‍िधानसभा सीट वडोदरा संसदीय क्षेत्र (Vadodara Parliamentary Constituency) के अंतर्गत है.

इस सीट पर 2017 के चुनाव में भाजपा के राजेंद्र त्रिवेदी ‘राजुभाई वकील’ ने कांग्रेस के चन्द्रकान्त आर. श्रीवास्तव ‘भथ्थुभाई’ को 36,650 वोटों से पराज‍ित क‍िया था. अहम बात यह है क‍ि राजेंद्र त्रिवेदी इस सीट से दो बार व‍िधायक चुने गए हैं ले‍क‍िन पार्टी ने इस बार उनको ट‍िकट नहीं द‍िया है. लेकिन इस बार चुनाव क‍िसके पक्ष में होगा, कौन यहां बाजी मारेगा, यह आने वाले समय में ही पता चलेगा.

भाजपा ने सीट‍िंग व‍िधायक की जगह नए चेहरे के रूप में बालकृष्ण खंडेराव शुक्ला (Balkrishna Khanderao Shukla) को मौका द‍िया है और भाजपा इस सीट से सातवीं बार चुनाव जीतने के ल‍िए पूरी ताकत झोंक दी है. वहीं, कांग्रेस ने संजय पटेल (Sanjay Patel) पर भरोसा जताते हुए उनको चुनावी दंगल में उतारा है. और आम आदमी पार्टी ने हिरेन शिर्के ( Hiren Shirke) पर चुनावी दांव खेला है.

Visavadar Assembly Election 2022: विसवादार सीट पर कांग्रेस का कब्‍जा, BJP के गढ़ में लगाई थी सेंध, इस बार क‍िसके पक्ष में होगा चुनाव? जानें

इस सीट पर 22 साल से भाजपा लगातार 6 चुनावों में जीत का परचम लहराती आ रही है. वहीं कांग्रेस यहां से 1985 में आख‍िरी चुनाव जीत पाई थी. इसके बाद से कांग्रेस पार्टी की यहां पर एंट्री नहीं हो पाई है. इसके चलते यह सीट भाजपा का मजबूत गढ़ के रूप में देखी जाती है. हालांक‍ि भाजपा ने दो बार के जीते सीट‍िंग व‍िधायक की जगह इस पर नया चेहरा मैदान में उतारा है.

साल 2017 के चुनाव में भाजपा के राजेंद्र त्रिवेदी ‘राजुभाई वकील’ को 106,985 मत प्राप्‍त हुए थे जबक‍ि कांग्रेस के चन्द्रकान्त आर. श्रीवास्तव ‘भथ्थुभाई’ को दूसरे स्थान पर 70,335 वोट हास‍िल हुए थे. दोनों के बीच जीत हार का अंतराल 36,650 वोटों का रहा था. वहीं, साल 2012 का चुनाव भी राजेंद्र त्रिवेदी के पक्ष में रहा था. राजेंद्र त्रिवेदी ने भाजपा प्रत्‍याशी के रूप में कांग्रेस के जयेश ठक्कर को 41,535 मतों के अंतराल से हराया था.

इस सीट पर 2007, 2002, 1998 और 1995 के सभी चुनाव भाजपा ने ही जीते थे. इस सीट पर कांग्रेस के ठाकुर रमेशभाई राम सिंहभाई ने ही स‍िर्फ 1985 का आख‍िरी चुनाव जीता था. खास बात यह है क‍ि इस सीट से जनता दल के ट‍िकट पर 1990 का चुनाव योगेश पटेल ने अपने पक्ष में क‍िया था. इसके बाद योगेश पटेल ने 2007 तक लगातार 4 चुनाव भाजपा के ट‍िकट पर जीते थे.

रावपुरा सीट पर 2.97 लाख से ज्‍यादा मतदाता

रावपुरा व‍िधानसभा सीट (Raopura Assembly Seat) पर कुल मतदाताओं की संख्‍या 297958 है. इनमें 151683 पुरूष और 146216 मह‍िला मतदाता हैं. इस सीट पर अन्‍य मतदाताओं की संख्‍या 59 है. गुजरात में कुल वोटरों की संख्‍या पर नजर डाली जाए तो यह ,90,89,765 है. इनमें 2,53,36,610 पुरूष, 2,37,51,738 मह‍िला और 1,417 ट्रांसजेंडर मतदाता हैं. इस बार कुल 27,943 सर्व‍िस वोटर भी हैं. इससे कुल मतदाता इस बार 4,91,17,308 हैं.

वडोदरा संसदीय क्षेत्र से PM मोदी रहे सांसद, 2009 से BJP का कब्‍जा

रावपुरा व‍िधानसभा सीट (Raopura Assembly Seat) वडोदरा ज‍िला और संसदीय क्षेत्र (Vadodara Parliamentary Constituency) के अंतर्गत है. इस संसदीय क्षेत्र से 2019 के चुनाव में भाजपा के रंजन बेन भट्ट सांसद न‍िर्वाच‍ित हुई थीं. भाजपा की रंजन बेन को 8,83,719 वोट हास‍िल हुए थे जबक‍ि इंडियन नेशनल कांग्रेस के प्रशांत पटेल को 2,94,542 हास‍िल हुए थे. रंजन बेन ने पटेल को 5,89,177 मतों के बड़े अंतराल से हराया था.

इस संसदीय क्षेत्र से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने भी 2014 का लोकसभा चुनाव जीता था. पीएम नरेंद्र मोदी को 8,45,464 वोट हास‍िल हुए थे, जबक‍ि कांग्रेस के मधुसूदन देवराम म‍िस्‍त्री को मात्र 2,75,336 मत ही पड़े थे. पीएम मोदी ने म‍िस्‍त्री को 6,48,208 वोटों के बड़े अंतरात से श‍िकस्‍त दी थी. खास बात यह है कि इस सीट पर 2009 में भी भाजपा के बालकृष्ण खंडेरो शुक्ला (बालू शुक्ला) का कब्‍जा था.

राज्‍य की सभी 182 सीटों पर दो चरणों में होंगे चुनाव

बताते चलें क‍ि गुजरात की कुल 182 विधानसभा सीटों में से फर्स्‍ट फेज में 89 सीटों पर 1 दिसंबर को चुनाव होगा. वहीं बाकी 93 व‍िधानसभा सीटों पर 5 दिसंबर को वोट डाले जाएंगे. आगामी 8 दिसंबर को चुनाव पर‍िणाम घोष‍ित क‍िए जाएंगे. अहम बात यह है क‍ि इस बार भाजपा और कांग्रेस के अलावा चुनावी दंगल में आम आदमी पार्टी (AAP) भी मजबूती के साथ ताल ठोंके हुए है.

Tags: Assembly election, Gujarat Elections

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें