लाइव टीवी

गुजरात के इस जिले में नहीं चला मोदी मैजिक, BJP का सूपड़ा साफ

News18Hindi
Updated: December 18, 2017, 6:33 PM IST
गुजरात के इस जिले में नहीं चला मोदी मैजिक, BJP का सूपड़ा साफ
गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी ने अपने कार्यकाल के अंतिम दौर में राज्य में तीन नए जिलों का गठन किया था.

गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी ने अपने कार्यकाल के अंतिम दौर में राज्य में तीन नए जिलों का गठन किया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 18, 2017, 6:33 PM IST
  • Share this:
गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी ने अपने कार्यकाल के अंतिम दौर में राज्य में तीन नए जिलों का गठन किया था. इन जिलों में साबरकांठा से अलग होकर बनाया गया अरावल्ली जिला भी शामिल था. जिले की तीनों सीटों पर अब तक कांग्रेस का कब्ज़ा था. इस बार भी यहां मोदी का मैजिक नहीं चला और तीनों सीटों पर कांग्रेस उम्मीदवार ने जीत हासिल की.

इस जिले में कुल तीन विधानसभा- भिलोदा, मोदासा और बायद शामिल हैं. इनमें एक सीट अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित है जबकि 2 सीटें अनारक्षित हैं. बायद विधानसभा सीट अनारक्षित है.

मोडासा से बीजेपी के परमार भिखूसिंहजी चतुरसिंहजी और कांग्रेस के ठाकोर राजेंद्रसिंह शिवसिंह मैदान में हैं. पिछले विधानसभा चुनाव यानी 2012 में कांग्रेस के ठाकोर राजेंद्रसिंह शिवसिंह ने बीजेपी के दिलीपसिंहजी परमार को 22858 वोटों से हराया था. इस बार राजेंद्र सिंह ने भिखूसिंहजी को बेहद कड़े मुकाबले में सिर्फ 147 वोटों से हराया.

भिलोदा विधानसभा सीट से बीजेपी ने आईपीएस अफसर पीसी बरंडा पर दांव खेला था. कांग्रेस ने यहां से पांच बार के विधायक डॉ अनिल जोशियारा को ही दोबारा अपना उम्मीदवार बनाया था. यहां भी जोशियारा का दबदबा कायम रहा और उन्होंने 12 हज़ार से ज्यादा वोटों से जीत हासिल की है.

जिले की तीसरी सीट पर दिलचस्प मुकाबला था. बायद विधानसभा सीट से बीजेपी के अदेसिंह मानसिंह चौहान और कांग्रेस के धवलसिंह नरेंद्रसिंह जाला चुनावी मैदान में थे. कांग्रेस उम्मीदवार ने यहां आठ हज़ार से ज्यादा वोटों से जीत हासिल की है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Gandhinagar से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 18, 2017, 6:17 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर