गुजरात: बच्चे में जन्म से ही थे महिला-पुरुष के जननांग, 9 साल बाद हुआ सफल ऑपरेशन

तीनों डॉक्टरों ने डेढ़ घंटे तक बच्चे का ऑपरेशन किया और कामयाबी हासिल की.

Gujarat News: डॉक्टर के मुताबिक ऐसी घटनाएं दुर्लभ ही होती हैं और एक लाख बच्चों में से एक ही बच्चे में ऐसा देखने को मिलता है.

  • Share this:

    बनासकांठा. बनासकांठा के पालनपुर जनरल अस्पताल में अजीबोगरीब किस्सा सामने आया है. एक बच्चे में जन्म के साथ ही महिला और पुरुष दोनों के जननांग से परिवार को सदमा लगा. चिंतित परिवार ने लगातार नौ वर्षों तक बच्चे को अलग-अलग अस्पतालों में दिखाने के बाद आखिरकार पालनपुर सिविल अस्पताल ने एक ऑपरेशन किया, जो सफल रहा है.


    बनासकांठा के पालनपुर जनरल अस्पताल में जन्म के समय बच्चे में स्त्री और पुरुष दोनों जननांग मौजूद थे. बच्चे की हालत देखकर परिजन भी चिंतित थे. ऐसे में परिवार ने लगातार 9 वर्षों तक विभिन्न अस्पतालों में बच्चे की परेशानी का निदान करने की कोशिश की, लेकिन परिवार की खराब आर्थिक स्थिति के कारण परिवार ने अंततः बनास मेडिकल कॉलेज के पालनपुर जनरल अस्पताल में उसका इलाज कराने का फैसला किया.


    गुजरात में लागू हुआ लव जिहाद कानून, जबरन धर्म परिवर्तन कराने पर 4 से 7 साल की कैद





    डॉक्टर के मुताबिक ऐसी घटनाएं दुर्लभ ही होती हैं और एक लाख बच्चों में से एक ही बच्चे में ऐसा देखने को मिलता है. ऐसे लक्षणों वाली स्थिति को मेडिकल भाषा में स्युडो हरमोप्रोडीटीजम कहा जाता है. पालनपुर सिविल अस्पताल में डॉ. सुनील जोशी सहित तीन डॉक्टरों की एक टीम द्वारा विभिन्न परीक्षण किए जाने के बाद, यह पाया गया कि बच्चे में सबसे अधिक महिला तत्व था और उसके परिवार ने उसे एक महिला के रूप में रखने की इच्छा जाहिर की.




    इसके बाद डॉक्टरों ने बच्चे का ऑपरेशन करके पुरुष जननांग को दूर किया. तीनों डॉक्टरों ने डेढ़ घंटे तक सफलतापूर्वक ऑपरेशन किया और अब बच्चे की हालत स्वस्थ है. इस संबंध में डॉ. सुनील जोशी ने कहा कि 40 साल में यह दूसरी बार है जब उन्होंने चिकित्सा क्षेत्र में ऐसी घटना देखी है, जो दुर्लभ है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.