बच्ची के जन्म के बाद उठा मां का साया, न्यायाधीश ने कराया स्तनपान और ले लिया गोद

बच्ची के जन्म के बाद उठा मां का साया, न्यायाधीश ने कराया स्तनपान और ले लिया गोद
बच्ची के जन्म के बाद उठा मां का साया, न्यायाधीश ने स्तनपान करा लिया गोद

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान (Beti Bachao, Beti Padhao Yojana) के तहत गुजरात (Gujarat) के डीडीओ अमित प्रकाश और उनकी पत्नी ने बच्ची को पूरी प्रक्रिया के साथ गोद ले लिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 18, 2019, 10:54 AM IST
  • Share this:
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान (Beti Bachao, Beti Padhao Yojana) को गुजरात (Gujarat) के जिला विकास अधिकारी (district development officer) और उनकी न्यायाधीश पत्नी ने साकार कर दुनिया के सामने मिसाल पेश की है. दरअसल एक नवजात की मां बच्ची को जन्म देने के 15 दिन बाद ही दुनिया से चल बसी. दूध न मिलने की वजह से बच्ची 14 घंटे तक भूख से तड़पती रही. आणंद के जिला विकास अधिकारी की सीजेएम पत्नी को जैसे ही इस बात की जानकारी मिली तो उन्होंने अस्पताल पहुंचकर बच्ची को पहले स्तनपान कराया फिर परिवार से मिलकर उसे गोद भी ले लिया.

गुजरात के आणंद जिला विकास अधिकारी (डीडीओ) अमित प्रकाश यादव को डिलिवरी के वक्त किसी महिला की मौत होने पर सीएचसी और पीएसची का दौरा करना होता है. तीन अगस्त को उन्हें खबर लगी कि एक बच्ची के जन्म के बाद से मां की हालत काफी खराब है और उसे वडोदरा के एसएसजी अस्पताल में शिफ्ट करने की जरूरत है. अपने तीसरे बच्चे को जन्म देने के बाद ही महिला की वडोदरा पहुंचने से पहले मौत हो गई.

Gujarat, new judge, Beti Bachao, Beti Padhao Yojana, Narendra Modi
गुजरात के आणंद जिला विकास अधिकारी (डीडीओ) अमित प्रकाश और उनकी पत्नी चित्रा यादव अपनी बच्ची के साथ.




बताया जाता है कि बारिश की वजह से मृत महिला के परिवार का कोई सदस्य वडोदरा नहीं पहुंच सका था. इस बात की जानकारी जब अमित यादव को लगी तो इस बात का जिक्र उन्होंने अपनी पत्नी सीजेएम चित्रा यादव से किया. अमित ने बताया गया था कि बच्ची ने पिछले 14 घंटे से कुछ भी नहीं खाया था. इस बात की जानकारी उन्होंने जब पत्नी चित्रा को दी तो वह बच्ची को स्तनपान कराने को तैयार हो गई.
Gujarat, new judge, Beti Bachao, Beti Padhao Yojana, Narendra Modi
डीडीओ अमित प्रकाश और उनकी पत्नी चित्रा यादव का एक डेढ़ साल का एक बेटा भी है.


डीडीओ अमित ने बताया कि हमने बच्ची के पिता और परिवार के बात कर बच्ची को गोद लेने का फैसला किया है. इस बच्ची को गोद लेने के लिए की जाने वाली सभी प्रक्रिया को पूरा किया गया है. दिलचस्प बात यह है कि दंपती का डेढ़ साल का एक बच्चा भी है जिसका जन्म सरसा सीएचसी में हुआ था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज