होम /न्यूज /राष्ट्र /AAP को मिलेगा राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा, दिल्ली में ऑफिस के लिए जगह पाने की होगी हकदार

AAP को मिलेगा राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा, दिल्ली में ऑफिस के लिए जगह पाने की होगी हकदार

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल.

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल.

AAP National Party: अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हालांकि आप ने गुजरात में ज्यादा सीट नहीं जीती हैं, लेकिन उसे मिले वोट ने ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी (आप) को निर्वाचन आयोग से आधिकारिक तौर पर राष्ट्रीय पार्टी के रूप में मान्यता मिलने के बाद अब पार्टी राष्ट्रीय राजधानी में केंद्र सरकार से कार्यालय के लिए स्थान पाने की हकदार होगी. पार्टी का दीन दयाल उपाध्याय मार्ग में पहले से एक कार्यालय मौजूद है, यह स्थान दिल्ली सरकार द्वारा आवंटित किया गया है. राष्ट्रीय दल का अध्यक्ष भी सरकारी आवास पाने का पात्र होता है.

तत्कालीन केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय द्वारा 31 जुलाई, 2014 को एक कार्यालय ज्ञापन में कहा गया है, ‘राष्ट्रीय राजनीतिक दलों, जिन्हें भारत के निर्वाचन आयोग द्वारा इस रूप में मान्यता दी गई है, को एफआर 45ए के तहत लाइसेंस शुल्क के भुगतान अर्थात सामान्य लाइसेंस शुल्क के भुगतान पर अपने कार्यालय उपयोग के लिए दिल्ली में सामान्य पूल से एक आवासीय इकाई के आवंटन को बरकरार रखने/उपलब्ध करने की अनुमति दी जाएगी.’

नियमों के अनुसार, यदि किसी मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय पार्टी के अध्यक्ष के पास पहले से ही सरकारी आवास है, तो उसे अन्य आवास आवंटित नहीं किया जाएगा. आप सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप में पॉश सिविल लाइंस इलाके में 6, फ्लैगस्टाफ रोड स्थित एक आधिकारिक बंगले में रहते हैं. गुजरात विधानसभा चुनाव के नतीजे बृहस्पतिवार को घोषित हुए, जिसमें आम आदमी पार्टी ने 12.92 प्रतिशत वोट के साथ पांच सीट पर जीत हासिल की.

केजरीवाल ने कहा कि हालांकि आप ने गुजरात में ज्यादा सीट नहीं जीती हैं, लेकिन उसे मिले वोट ने उसे राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा दिलाने में मदद की. अरविंद केजरीवाल की आप पहले से ही दिल्ली और पंजाब में एक मान्यता प्राप्त राज्य पार्टी है जहां यह सत्ता में है. इस साल की शुरुआत में इसे गोवा में एक राज्य पार्टी के रूप में भी मान्यता दी गई थी. निर्वाचन आयोग के एक पूर्व अधिकारी ने कहा कि राज्य में पार्टी का दर्जा पाने के लिए एक पार्टी को राज्य में आठ प्रतिशत वोट पाने की आवश्यकता होती है.

Tags: AAP, Arvind kejriwal

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें