होम /न्यूज /राष्ट्र /गुजरात: पटेल फैक्टर के साथ 'क्लीन' इमेज ने भूपेंद्र पटेल को बनाया BJP का पंसदीदा CM कैंडिडेट

गुजरात: पटेल फैक्टर के साथ 'क्लीन' इमेज ने भूपेंद्र पटेल को बनाया BJP का पंसदीदा CM कैंडिडेट

भूपेंद्र पटेल को बीजेपी से सीएम पद की पहली पसंद माना जा रहा है. (News18)

भूपेंद्र पटेल को बीजेपी से सीएम पद की पहली पसंद माना जा रहा है. (News18)

अब ये करीब-करीब साफ हो चला है कि भूपेंद्र पटेल गुजरात के आगामी विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी का सीएम पद का चेहरा बनेंगे. ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

भूपेंद्र पटेल गुजरात के विधानसभा चुनाव में बीजेपी के सीएम पद का चेहरा बनेंगे.
पाटीदार समुदाय से होना और क्लीन इमेज उनकी सबसे बड़ी ताकत माने जाते हैं.
गुजरात में पटेल समुदाय के 12-14 प्रतिशत वोट हैं. 70 सीटों पर वे नतीजे तय करते हैं.

नई दिल्ली. अब ये करीब-करीब साफ हो चला है कि भूपेंद्र पटेल गुजरात के आगामी विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी का सीएम पद का चेहरा बनेंगे. राजनीतिक विशेषज्ञ इसके लिए कई कारण बताते हैं. जिसमें उनका असरदार पाटीदार समुदाय से होना और क्लीन इमेज सबसे प्रमुख माने जाते हैं. गुजरात भाजपा के अध्यक्ष सीआर पाटिल ने टीवी9 के एक कार्यक्रम में कहा भी है कि मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने अच्छा काम किया है और उन्हें एक और कार्यकाल के लिए मौका दिया जाएगा. पहली बार विधायक बने पटेल को पिछले साल सितंबर में विजय रूपाणी के इस्तीफे के बाद मुख्यमंत्री बनाया गया था. तब उनके चयन पर भाजपा में भी आश्चर्य जताया गया था.

गुजरात में पटेल समुदाय के 12-14 प्रतिशत वोटर हैं, लेकिन यह समुदाय आर्थिक और राजनीतिक दोनों रूप से बेहद शक्तिशाली है, और पूरे राज्य में फैला हुआ है. राज्य की 182 विधानसभा सीटों में से उत्तरी गुजरात और सौराष्ट्र में कम से कम 70 सीटों पर उनके वोट नतीजे तय करते हैं. वे भाजपा के लिए एक महत्वपूर्ण वोट बैंक हैं. बीजेपी के एक तिहाई विधायक पटेल समुदाय से हैं. हाल के समय में पाटीदार समुदाय में बीजेपी को लेकर कुछ बेचैनी देखी गई थी. फरवरी के स्थानीय निकाय चुनावों में भाजपा के लगभग सभी निकायों को जीतने के बावजूद आम आदमी पार्टी (आप) ने सूरत में भाजपा विरोधी पाटीदार वोटों को अपनी ओर खींचने में बड़ी कामयाबी पाई थी. वैसे भी पिछले साल पूर्व सीएम केशुभाई पटेल की मौत के बाद पाटीदार समुदाय में कोई कद्दावर नेता नहीं बचा है.

आखिर क्यों गुजरात के मुख्यमंत्री के तौर पर चुने गए भूपेंद्र पटेल, ऐसा रहा है राजनीतिक करियर

भाजपा ने गांधीनगर नगर निगम और लगभग 9,000 ग्राम पंचायतों के लिए हुए चुनाव में सीएम भूपेंद्र पटेल के नेतृत्व में अच्छी जीत हासिल की है. भाजपा ने गांधीनगर निगम की 44 सीटों में से 41 पर जीत हासिल की. उसने ग्राम पंचायत की 70% से अधिक सीटें जीतीं, जिसके चुनाव पार्टी के आधार पर नहीं होते हैं. बीजेपी के एक वरिष्ठ पदाधिकारी का कहना है कि ‘सीएम एक ऐसे व्यक्ति हैं जो अपनी सीमाओं को ध्यान में रखते हुए धीरे-धीरे लेकिन लगातार फैसले लेते हैं.’ भूपेंद्र पटेल को शीर्ष पद पर अनुभव की कमी और मौजूदा कठिन समय को देखते हुए कोई भी गलत फैसला नहीं लेने का श्रेय भी दिया जाता है.

Tags: BJP, Gujarat, Gujarat Elections

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें