अपना शहर चुनें

States

गुजरात सरकार ने बदला ड्रैगन फ्रूट का नाम, अब कहलाएगा 'कमलम', CM रूपाणी बोले- इसमें कुछ भी राजनीतिक नहीं

सीएम विजय रुपाणी (@CMOGuj)
सीएम विजय रुपाणी (@CMOGuj)

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी (Vijay Rupani) ने कहा कि राज्य सरकार ने ड्रैगन फ्रूट (Dragon Fruit) का नाम बदलकर 'कमलम' रखने का फैसला किया है

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 20, 2021, 8:14 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी (Vijay Rupani) ने मंगलवार को कहा कि सरकार ने ड्रैगन फ्रूट (Dragon Fruit) का नाम बदलकर 'कमलम' रखने का फैसला किया है. रूपानी ने कहा, 'राज्य सरकार ने ड्रैगन फ्रूट का नाम बदलने का फैसला किया है. फल का बाहरी आकार कमल जैसा होता है, इसलिए ड्रैगन फ्रूट का नाम बदलकर कमलम रखा जाएगा.' उन्होंने कहा 'चीन के साथ जुड़े ड्रैगन फ्रूट का नाम हमने बदल दिया है.' संस्कृत में कमलम का अर्थ है कमल. हाल के वर्षों में तेजी से लोकप्रिय ड्रैगन फ्रूट एक अनोखे रूप और स्वाद के साथ एक उष्णकटिबंधीय फल है.

मुख्यमंत्री बागवानी विकास मिशन के शुभारंभ के दौरान मंगलवार को मीडिया के साथ बातचीत करते हुए रूपाणी ने कहा, 'हमने ड्रैगन फ्रूट के पेटेंट को कमलम कहे जाने के लिए आवेदन किया है, लेकिन अब तक हम गुजरात सरकार ने फैसला किया है कि हम फल को कमलम कहेंगे.'

इसमें कुछ भी राजनीतिक नहीं- CM
CM ने कहा कि 'भले ही यह फल ड्रैगन फ्रूट के रूप में जाना जाता है, यह उचित नहीं लगता. कमलम शब्द एक संस्कृत शब्द है और फल में कमल का आकार होता है, इसलिए हमने इसे कमलम कहने का फैसला किया है और इसमें कुछ भी राजनीतिक नहीं है.'



सीएम के अनुसार, देश में कैक्टस के रूप में फल लंबे समय से हैं. रूपाणी ने कहा, 'कमलम शब्द से किसी को भी चिंतित नहीं होना चाहिए.' बता दें कमल भाजपा का प्रतीक है और गांधीनगर में राज्य भाजपा मुख्यालय का नाम भी 'श्री कमलम' है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज