Home /News /nation /

गुजरात: टीकाकरण को लेकर सरकार सचेत, स्वास्थ्यकर्मियों के लिए काउंसलिंग सत्र आयोजित

गुजरात: टीकाकरण को लेकर सरकार सचेत, स्वास्थ्यकर्मियों के लिए काउंसलिंग सत्र आयोजित

Vaccination in Gujarat: देश में कोविड-19 (Covid-19) के खिलाफ टीकाकरण बीती 16 जनवरी से शुरू हो गया है. ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने फिलहाल दो वैक्सीन- कोविशील्ड और कोवैक्सीन को पाबंदियों के साथ आपातकालीन इस्तेमाल की अनुमति दी है.

Vaccination in Gujarat: देश में कोविड-19 (Covid-19) के खिलाफ टीकाकरण बीती 16 जनवरी से शुरू हो गया है. ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने फिलहाल दो वैक्सीन- कोविशील्ड और कोवैक्सीन को पाबंदियों के साथ आपातकालीन इस्तेमाल की अनुमति दी है.

Vaccination in Gujarat: देश में कोविड-19 (Covid-19) के खिलाफ टीकाकरण बीती 16 जनवरी से शुरू हो गया है. ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने फिलहाल दो वैक्सीन- कोविशील्ड और कोवैक्सीन को पाबंदियों के साथ आपातकालीन इस्तेमाल की अनुमति दी है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. देश में पहले दौर का वैक्सीन कार्यक्रम (Covid-19 Vaccination) जारी है. सरकार पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगा रहा है. हालांकि, अभी भी ऐसे कई लोग हैं, जो वैक्सीन लगवाने नहीं पहुंचे हैं. इस आंकड़े को कम करने के लिए शुक्रवार को गुजरात सरकार (Gujarat Government) ने राज्य में एक काउंसलिंग सत्र का आयोजन किया था. खास बात है कि राज्य में स्वास्थ्य कर्मियों के बीच 70 फीसदी से ज्यादा टीका कार्यक्रम पूरा हो चुका है.

    राज्य स्वास्थ्य विभाग ने शुक्रवार को मेडिसिटी कैंपस में ‘काउंसलिंग सेशन’ (Counseling Session) का आयोजन किया था. यह सत्र खासतौर  से उन लोगों के लिए था, जो वैक्सीन लगवाने नहीं पहुंच रहे हैं. इस कार्यक्रम में हेल्थ एंड मेडिकल एजुकेशन के एडीशनल डायरेक्टर डॉक्टर गिरीश परमार और रीजनल ड्रग डिपो के डॉक्टर सतीश मकवाना ने वैक्सीन की क्वालिटी, साइड इफेक्ट्स समेत कई मुद्दों पर बात की.

    यह भी पढ़ें: गुजरात: बिना लाइसेंस एंटीबायोटिक दवाएं बना रही कंपनी की फैक्टरी पर छापा

    अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया को सूत्रों ने बताया कि राज्य सरकार का यह कदम जरूरी था. क्योंकि मेडिसिटी के ही कुछ स्टाफ सदस्यों का टीकाकरण होना बेहद जरूरी है. सीनियर मैनेजमेंट पर अपने अधीन कर्मचारियों को टीकाकरण के लिए जबरदस्ती करने के आरोप लग रहे हैं. एसवीपी अस्पताल में भी जूनियर डॉक्टर्स ने ऐसे ही आरोप लगाए हैं. हालांकि, अथॉरिटी ने टीकाकरण को पूरी तरह स्वेच्छिक रखा है. इसके अलावा राज्य स्वास्थ्य विभाग हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स के टीकाकरण का डेटा देने से बच रहा है.

    देश में कोविड-19 के खिलाफ टीकाकरण बीती 16 जनवरी से शुरू हो गया है. ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने फिलहाल दो वैक्सीन- कोविशील्ड और कोवैक्सीन को पाबंदियों के साथ आपातकालीन इस्तेमाल की अनुमति दी है. www.covid19india.org के आंकड़े बताते हैं कि देश में अब तक 79 लाख 67 हजार 647 लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है.

    Tags: Gujarat news, Vaccination in India

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर