IMA ने जारी की 'कोरोना शहीदों' की सूची; आंध्र, तमिलनाडु के बाद 38 डॉक्‍टरों की मौत के साथ तीसरे नंबर पर गुजरात

आईएमए ने जारी किए डॉक्‍टरों की मौत के आंकड़े.
आईएमए ने जारी किए डॉक्‍टरों की मौत के आंकड़े.

आईएमए (IMA) के अनुसार कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) से अब तक देश में भी 382 डॉक्‍टर्स की जान जा चुकी है. इस मामले में सबसे अधिक जानें आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में गई हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 20, 2020, 12:27 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामलों में पिछले कुछ हफ्तों में बेहद तेजी देखने को मिली है. रविवार को भी भारत में पिछले 24 घंटे के दौरान 92,605 नए कोरोना वायरस संक्रमण के मामले सामने आए. वहीं देश में कोविड 19 (Covid 19) से हो रही मौतों का मामला भी बढ़ रहा है. अब तक 86 हजार से अधिक लोगों की जान इस संक्रमण से जा चुकी है. इस बीच इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) ने उन डॉक्‍टर्स (Doctor Covid 19 deaths) की सूची जारी की है जो कोरोना वायरस के कारण जान गंवा चुके हैं. आईएमए ने इन्‍हें कोविड शहीद करार दिया है.

आईएमए के अनुसार कोरोना वायरस संक्रमण से अब तक देश में भी 382 डॉक्‍टर्स की जान जा चुकी है. इस मामले में सबसे अधिक जानें आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में गई हैं. वहीं गुजरात डॉक्‍टर्स की मौत के मामले में तीसरे स्‍थान पर है. राज्‍य में अब तक 38 डॉक्‍टर्स की मौत कोरोना वायरस संक्रमण के कारण हो चुकी है. आईएमए ने यह सूची 16 सितंबर को जारी की है. इसमें कहा गया है कि कोरोना से मरने वाले डॉक्‍टरों को शहीदों का दर्जा दिया जाए.

यह भी पढ़ें: Corona Cases in India: एक दिन में मिले 92 हजार से अधिक केस, 1133 मरीजों की मौत



वहीं अगर कुल कोरोना केस की बात करें तो गुजरात में अब तक 1.2 लाख से अधिक मामले सामने आ चुके हैं. राज्‍य में 3286 लोगों की मौत इस संक्रमण से हुई है. कुल केस के मामले में गुजरात देश में 12वें स्‍थान पर है. वहीं इंडियन एक्‍सप्रेस के अनुसार गुजरात में हाल ही में एक डॉक्‍टर की मौत वापी में हुई है. कुल 38 डॉक्‍टरों में से 15 की मौत अहमदाबाद औश्र पांच की मौत सूरत में हुई है. मरने वाले सभी डॉक्‍टरों की उम्र 34 से 82 साल के बीच थी. 38 में से 29 डॉक्‍टरों की उम्र 50 से 70 साल की थी.

यह जानकारी भी दी गई है कि कोरोना वायरस संक्रमण से मरने वाले सभी 38 डॉक्‍टर या तो प्राइवेट प्रैक्टिशनर थे और या तो अस्‍पताल में कार्यरत थे. इनमें से एक 49 साल के डॉक्‍टर सरकारी मेडिकल ऑफिसर थे. उनकी मौत 22 जून को हुई है. इससे पहले उनकी मां की भी मौत कोविड 19 से हुई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज