गुजरात: मंत्री गणपत वसावा पर हमला, आदिवासियों ने किया पथराव

गुजरात के राजपिपला में रूपाणी सरकार के मंत्री गणपत वसावा पर आदिवासियों ने पथराव कर दिया. वह वहां आदिवासियों को संबोधित करने गए थे. वह गुजरात सरकार में आदिम जाति विकास मंत्री भी हैं.

News18Hindi
Updated: January 14, 2018, 10:44 PM IST
News18Hindi
Updated: January 14, 2018, 10:44 PM IST
गुजरात के आदिवासी कल्याण मंत्री गणपत वसावा को आज नर्मदा जिले के राजपीपला शहर में कुछ आदिवासी लोगों की नाराजगी झेलनी पड़ी. मंत्री के आदिवासी सांस्कृतिक एकता महासम्मेलन के कार्यक्रम स्थल से निकलते ही समुदाय के लोगों ने उनके काफिले पर पथराव किया. राजपीपला के पुलिस उपाधीक्षक राजेश परमार ने बताया कि घटना में कोई जख्मी नहीं हुआ और ना ही मंत्री के कार पर पत्थर लगी.

उन्होंने बताया, ‘कुछ लोग अचानक नाराज हो गए और मंत्री के वाहन पर पथराव किया. हालांकि पुलिस तत्काल हरकत में आई और काफिले को सुरक्षित बाहर निकाला. घटना में कोई जख्मी नहीं हुआ. पत्थर कार को नहीं लगी.’

वसावा आदिवासी एकता परिषद की ओर से आयोजित तीन दिवसीय सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए राजपीपाला गए हुए थे. घटनाक्रम के बारे में आदिवासी एकता परिषद के एसबी वसावा ने बताया, ‘गणपत वसावा को जैसे ही मंच पर बुलाया गया, कुछ अतिथियों ने गिर के कुछ खानाबदोश जनजातियों को राबड़ी और चारन आदिवासी घोषित किये जाने को लेकर उनके और भाजपा सरकार के खिलाफ नारेबाजी की.’’

उन्होंने बताया, ‘लगातार बाधा के कारण मंत्री जल्दी से वहां से निकल गए. इसके बाद कुछ लोगों ने कार्यक्रम स्थल से बाहर उनके काफिले पर पथराव किया.’

गणपत वसावा सूरत की मांगरोल सीट से तीसरी बार विधायक बने हैं. वे गुजरात विधानसभा के स्‍पीकर भी रह चुके हैं. पिछली विधानसभा में भी वे ही स्‍पीकर ही थे. वसावा आदिवासी समाज से ही आते हैं और गुजरात विधानसभा के पहले आदिवासी स्‍पीकर थे.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर