राज्‍यसभा चुनाव: JDU की फजीहत, फरमान के बावजूद MLA ने दिया अहमद पटेल को वोट

News18Hindi
Updated: August 8, 2017, 6:33 PM IST
News18Hindi
Updated: August 8, 2017, 6:33 PM IST
गुजरात राज्‍य सभा चुनाव में जनता दल यूनाइटेड (जदयू) को शर्मिंदगी झेलनी पड़ी है. पार्टी के विधायक ने आलाकमान के 'आदेश' के बावजूद कांग्रेस उम्‍मीदवार अहमद पटेल को वोट देने का दावा किया. गुजरात विधानसभा में जदयू का एक विधायक है. कांग्रेस पहले से ही जदयू विधायक के समर्थन का दावा कर रही थी.

वोटिंग के बारे में जदयू के प्रवक्‍ता केसी त्‍यागी ने News18India से कहा था कि उनके विधायक ने बीजेपी को वोट दिया है. उन्‍होंने कहा, 'गुजरात में विधायक है छोटू भाई, उन्होंने बीजेपी को वोट किया.
मुझे पार्टी के महामंत्री हैं उन्होंने भी सूचित किया है. जेडीयू का वोट बीजेपी के पक्ष में गया है.'

लेकिन विधायक वसावा ने कहा कि उन्‍होंने अहमद पटेल को अपना वोट दिया है. वसावा ने त्‍यागी के बयान का खंडन करते हुए कहा, 'मैंने अहमद पटेल को वोट दिया. दिल्‍ली में बैठकर कहने से क्‍या होता है. यहां वोट मैंने दिया है.'

भरूच जिले की झगडि़या सीट से विधायक छोटू वसावा ने कहा, 'वह सत्‍ताधारी पार्टी के कामों से नाराज हैं. भाजपा ने राज्‍य पर 22 साल राज किया है लेकिन आदिवासी इलाकों की अनदेखी की है. सरकार ने गरीबों और आदिवासियों के लिए कुछ नहीं किया.'

उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस उम्‍मीदवार को वोट देने का फैसला उनका खुद का है. उन्‍हें नीतीश कुमार से कोई आदेश नहीं मिला. साथ ही पार्टी की ओर से बीजेपी को वोट देने का कोई व्हिप जारी नहीं हुआ.

ये भी पढ़ें

गुजरात: राज्यसभा चुनाव की वोटिंग खत्म, 8 कांग्रेसी विधायकों पर होगी कार्रवाई

क्‍या राज्‍यसभा चुनाव के नतीजों के बाद खत्‍म हो जाएगा अहमद पटेल का राजनीतिक करियर?

राहुल गांधी की कार पर फेंके गए पत्थर से कांग्रेस साधेगी बीजेपी पर निशाना!
राज्यसभा में BJP सबसे बड़ी पार्टी बनी, 57 सांसदों के साथ कांग्रेस नंबर 2 पर
बिहार के बाद मोदी-शाह के निशाने पर हो सकते हैं ये दो राज्य
राहुल का पहला प्रयोग नाकाम, अब 2019 में कैसे देंगे मोदी को चुनौती?
First published: August 8, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर