गुजरात: श्रेय अस्पताल में आग लगने से 8 कोरोना मरीजों की मौत के हफ्तों बाद दो गिरफ्तार, फिर रिहा

गुजरात: श्रेय अस्पताल में आग लगने से 8 कोरोना मरीजों की मौत के हफ्तों बाद दो गिरफ्तार, फिर रिहा
श्रेय अस्पताल में आग लगने के बाद की फाइल फोटो (ANI)

गुजरात (Gujarat) के अहमदाबाद (Ahmedabad) में 6 अगस्त को एक कोविड अस्‍पताल में आग लग गई थी. इस आग की घटना में 8 मरीज की मौत हो गई थी. वे सभी कोरोना पेशेंट थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 26, 2020, 8:24 AM IST
  • Share this:
अहमदाबाद. गुजरात स्थित अहमदाबाद (Ahmedabad) में बीते दिनों जिस अस्पताल के ICU में आग लगी और कोरोना वायरस के 8 मरीजों की मौत हो गई थी, वहां के स्टाफ को अब रिहा कर दिया गया है. आग लगने की घटना के बादश्रेय अस्पताल (Shrey Hospital)के स्टाफ के ही बाबू अहीर महेश ओडेदरा 21 अगस्त को गिरफ्तार किए गए. मंगलवार को दोनों रिहा कर दिए गए. इससे पहले, अस्पताल के ट्रस्टी और प्रशासक भारत महंत को भी गिरफ्तार क रऔर जमानत पर रिहा कर दिया गया था.

IPC की धारा 304A , 336 और 307 के तहत नवरंगपुरा पुलिस स्टेशन में 10 अगस्त को एफआईआऱ दर्ज की गई थी. गौरतलब है कि 6 अगस्त की सुबह शॉर्ट सर्किट के कारण श्रेय अस्पताल की चौथी मंजिल के आईसीयू में आग लग गई, जिससे आठ कोविड मरीजों की मौत हो गई. घटना के बाद अस्पताल से कोविड मरीजों का इलाज करने के अधिकार छीन लिए गए.

सहायक पुलिस आयुक्त (ए डिवीजन) और मामले में जांच अधिकारी एमए पटेल ने कहा कि 'दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया और बाद में जमानत पर रिहा कर दिया गया क्योंकि प्राथमिकी में जमानती धाराएं हैं. चार्जशीट में उनका जिक्र होगा. मरीजों की सुरक्षा उन दोनों की जिम्मेदारी थी.'



पीएम ने किया था मुआवजे का ऐलान
बता दें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आग की इस घटना पर दुख जताया था. इसके साथ ही प्रधानमंत्री की ओर से मरने वाले लोगों के परिवारों को 2-2 लाख रुपये और घायलों को 50-50 हजार रुपये बतौर मुआवजा देने की घोषणा की गई थी. यह मुआवजा प्रधानमंत्री राष्‍ट्रीय राहत कोष से दिया जाएगा.

वहीं, सीएम विजय रुपाणी ने इस हादसे को लेकर जांच के आदेश दे दिए थे. श्रेय अस्‍पताल में आग की यह घटना 6 अगस्त तड़के करीब 3:15 बजे हुई. आग की सूचना पर कई दमकल वाहन मौके पर पहुंचे और 4:30 बजे के आसपास आग पर काबू पाया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज