गुजरात विधानसभा में कांग्रेस और भाजपा विधायक भिड़े, बेल्‍ट से पीटा

गुजरात विधानभा में भाजपा और कांग्रेस विधायक के बीच हुई हाथापाई के दौरान ही कांग्रेस के विधायक विक्रम माडम ने विधानसभा में माइक तोड़ दिया.

भाषा
Updated: March 14, 2018, 8:21 PM IST
गुजरात विधानसभा में कांग्रेस और भाजपा विधायक भिड़े, बेल्‍ट से पीटा
गुजरात विधानभा में भाजपा और कांग्रेस विधायक के बीच हुई हाथापाई के दौरान ही कांग्रेस के विधायक विक्रम माडम ने विधानसभा में माइक तोड़ दिया.
भाषा
Updated: March 14, 2018, 8:21 PM IST
गुजरात विधान सभा में कांग्रेस और भाजपा विधायक आपस में भिड़ गए. कांग्रेस विधायक ए प्रताप दुधात और भाजपा के निकोल से विधायक जगदीश पंचाल आपस में किसी बात को लेकर उलझ गए. मामला इतना बढ़ गया कि दोनों के बीच हाथापाई हो गई और कांग्रेस विधायक ने बेल्‍ट निकालकर भाजपा विधायक पर हमला बोल दिया. इस घटना के चलते कांग्रेस के एक विधायक को निलंबित कर दिया गया.

इस मामले में निलंबित विधायक प्रताप दुधत का कहना  है कि बीजेपी नेताओं ने पहले अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया जिससे उन्हें गुस्सा आ गया. दुधत ने कहा कि उन्हें निलंबित इसलिए किया गया है ताकि वह आगामी राज्यसभा चुनाव का हिस्सा न बन सकें. उन्होंने कहा कि यह फैसला एकतरफा लिया गया है.

कांग्रेस सदस्यों ने भाजपा के विधायक जगदीश पांचाल पर माइक्रोफोन की छड़ से हमला किया और उन्हें मुक्का भी मारा. इसके बाद सत्तारूढ़ पार्टी के सदस्यों ने विपक्षी पार्टी के अमरीश देर के साथ मारपीट की. हंगामा उस समय शुरू हुआ जब अध्यक्ष राजेंद्र त्रिवेदी ने कांग्रेस के सदस्य विक्रम मडाम को प्रश्नकाल के बाद एक मुद्दे पर चर्चा करने के दौरान अपनी बात रखने से रोक दिया. हालांकि मडाम ने अपनी बात रखने पर जोर दिया.

ठीक इसी समय देर ने अध्यक्ष से मदाम को अपनी बात रखने की अनुमति देने को कहा. अध्यक्ष ने उनके बात करने के लहजे पर आपत्ति जताई जिसके बाद मदाम और देर विरोध स्वरूप अध्यक्ष के आसन के पास आ गए. त्रिवेदी ने इसके बाद कांग्रेस के दोनों विधायकों को दिन भर के लिए निलंबित कर दिया और उन दोनों को मार्शल विधानसभा के बाहर ले गए.

बाद में गुस्साए कांग्रेस के विधायक प्रताप दुधत ने भाजपा के विधायक जगदीश पंचाल पर माइक्रोफोन की छड़ से हमला कर दिया. दुधात को पंचाल की इस बात पर गुस्सा आया था कि वह कांग्रेस के विधायकों को अध्यक्ष के बोलने के दौरान चुप रहने की सलाह दे रहे थे. पंचाल पर हमले के बाद अध्यक्ष ने दुधात को पूरे बजट सत्र के लिए निलंबित कर दिया.



इसके बाद अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही को 10 मिनट के लिए स्थगित कर दिया. इसी दौरान देर ने सदन के पिछले दरवाजे से आकर पंचाल पर हमला कर दिया. इस घटना के बाद में मार्शलों को बुलाया गया और स्थिति पर काबू पाया गया.

ये भी पढ़ेंः
राज्यसभा चुनाव: गुजरात में BJP और कांग्रेस के 3-3 उम्मीदवार
राहुल से मुलाकात की होती तो भाजपा 99 नहीं 79 सीटें जीतती- हार्दिक पटेल


 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->