लाइव टीवी
Elec-widget

कैप्टन ने कहा- पाकिस्तान में भारतीयों के लिए खोले जाएं अन्य गुरुद्वारे, पीएम मोदी से इस पर करेंगे चर्चा

भाषा
Updated: November 12, 2019, 11:04 PM IST
कैप्टन ने कहा- पाकिस्तान में भारतीयों के लिए खोले जाएं अन्य गुरुद्वारे, पीएम मोदी से इस पर करेंगे चर्चा
कैप्टन अमरिंदर सिंह ने करतारपुर गलियारा खोले जाने को लेकर पीएम मोदी और इमरान खान का शुक्रिया अदा किया है.

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह (CM Captain Amarinder Singh) ने कहा कि पाकिस्तान (Pakistan) स्थित पंजा साहिब और ननकाना साहिब जैसे गुरुद्वारा साहिबान के दर्शनों के लिए सिख भाईचारे के सपने को साकार करने में मदद करने के लिए इमरान ख़ान (Imran Khan) के पास इस मसले को उठाने के लिए वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से इस बारे में चर्चा करेंगे.

  • भाषा
  • Last Updated: November 12, 2019, 11:04 PM IST
  • Share this:
सुल्तानपुर लोधी. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह (Punjab CM Captain Amarinder Singh) ने आज घोषणा की कि भारतीय श्रद्धालुओं को सरहद पार अन्य ऐतिहासिक गुरूधामों के दर्शन करने की छूट देने का मसला पाकिस्तान सरकार (Pakistan Government) के समक्ष उठाने का आग्रह वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के साथ मुलाकात कर करेंगे.

मुख्यमंत्री ने गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के मौके पर यहां आयोजित एक राज्यस्तरीय समारोह में यह घोषणा की. इस दौरान राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द (President Ramnath Kovind) भी वहां मौजूद थे. गुरूपर्व के मौके पर आयोजित इस समारोह में पंजाब के राज्यपाल वी.पी. सिंह बदनौर और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत समेत अन्य हस्तियां शमिल हुई.

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि उनकी सरकार ने गुरु नानक देव जी के आदर्शों के मुताबिक सच्ची भावना के साथ सेवा देने वाले पुलिसकर्मियों को ‘प्रकाश पर्व पदक’ से सम्मानित करने का फ़ैसला किया है.

2020 तक जारी रखेंगे जाएंगे कार्यक्रम

मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व को समर्पित पिछले साल शुरू हुए कार्यक्रमों को नवंबर, 2020 तक जारी रखा जायेगा. इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने ऐतिहासिक मौके पर 550 कैदियों की अग्रिम रिहाई का फ़ैसला किया है और इनमें से 450 कैदियों को रिहा किया जा चुका है जबकि बाकियों को अगले कुछ महीनों में रिहा कर दिया जायेगा.

‘सहज पाठ’ और ‘भोग’ के उपरांत धार्मिक समारोह को संबोधित करते हुये मुख्यमंत्री ने देश -विदेश से धार्मिक उत्साह और पूरे हर्षोल्लास के साथ लाखों की संख्या में सुलतानपुर लोधी पहुंची संगत का स्वागत किया. यहां ‘गुरू नानक दरबार पंडाल’ में सहज पाठ पांच नवंबर को शुरू कराया गया था . इसका आयोजन पंजाब सरकार, संत समाज और विभिन्न धार्मिक जत्थेबंदियों ने संयुक्त रूप से किया था .

कैप्टन ने किया पीएम मोदी और इमरान का शुक्रिया
Loading...

सिख भाईचारे की भावनाओं का सत्कार करते हुये गुरुद्वारा करतारपुर साहिब जाने की सिख श्रद्धालुओं की मांग पूरा करने के लिए मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का धन्यवाद किया. कैप्टन ने उम्मीद ज़ाहिर की कि भारतीय श्रद्धालुओं को पाकिस्तान में ऐसे बाकी गुरूधामों के दर्शन करने की भी छूट मिलेगी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि पाकिस्तान स्थित पंजा साहिब और ननकाना साहिब जैसे गुरुद्वारा साहिबान के दर्शनों के लिए सिख भाईचारे के सपने को साकार करने में मदद करने के लिए इमरान ख़ान के पास इस मसले को उठाने के लिए वह प्रधानमंत्री से इस बारे में चर्चा करेंगे.

कैप्टन ने प्रकाश पर्व को समर्पित समारोह को सफल बनाने के लिए केंद्र सरकार की तरफ से दिए सहयोग का जि़क्र करते हुये ख़ुशी ज़ाहिर की. उन्होंने कहा कि विभिन्न राजनैतिक पार्टियों से जुड़े लोगों ने इन समागमों में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया जो पहली पातशाही जी को सच्ची श्रद्धांजलि है जिन्होंने सदा ही ‘सरबत के भले’(सबके कल्याण) का संदेश दिया.

गुरू के संदेश अपनाने का किया आह्वान
मुख्यमंत्री ने कहा कि नानक नाम लेवा संगत केवल पंजाब और भारत में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में है . उन्होंने गुरु नानक देव जी की शिक्षाओं पर ज़ोर देते हुये कहा कि गुरू साहिब जी के प्रवचन ‘विद्या विचारी तां परोपकारी’ के मुताबिक शिक्षा के महत्व को दिखाया. उन्होंने सभी को महान गुरू के ‘किरत करो, नाम जपो और वंड छको ’ संदेश को अपनाने का आह्वान किया.

मुख्यमंत्री ने श्री गुरु नानक देव जी के संदेशों की अहमियत को दिखाते हुये कहा कि भावी पीढिय़ों के लिए पर्यावरण की सुरक्षा की जानी चाहिए. उन्होंने किसानो से तेज़ी से गिर रहे भूजल का सोचसमझ कर इस्तेमाल करने, पराली न जलाने और खाद और कीटनाशकों का अनावश्यक प्रयोग न करने का आह्वान किया. उन्होंने सभी से कुदरत और कुदरती संसाधनों की संभाल करने की अपील की जिससे पंजाब को हरा -भरा और प्रदूषण मुक्त बनाया जा सके.

उन्होंने इन कार्यक्रमों की कामयाबी के लिए साल से भी अधिक समय से काम कर रहे पंजाब सरकार के मंत्रियों, विधायकों, अधिकारियों, इंजीनियरों, श्रमिकों और अन्यों को कामयाबी के लिए बधाई दी.

इससे पहले मुख्यमंत्री ने गुरुद्वारा बेर साहिब में मत्था टेका जहां एसजीपीसी प्रमुख गोबिंद सिंह लौंगोवाल और एसजीपीसी के सदस्य तथा पूर्व मंत्री तोता सिंह ने उन्हें सिरोपा भेंट किया.

ये भी पढ़ें-
पाकिस्तान पर भारी पड़ रहा है भारत के साथ व्यापारिक रिश्ते तोड़ना, जानें क्यों?

करतापुर कॉरिडोर खुलने पर पाकिस्‍तानी बस ड्राइवर ने जीता लोगों का दिल

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 12, 2019, 11:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...