Home /News /nation /

पहले 'भारत माता की जय' बोलो, गुरुग्राम में जारी विवाद के बीच नमाजियों से नारा लगाने को कहा

पहले 'भारत माता की जय' बोलो, गुरुग्राम में जारी विवाद के बीच नमाजियों से नारा लगाने को कहा

खुले में नमाज अदा करते मुस्लिम समुदाय के लोग. (सांकेतिक तस्वीर)

खुले में नमाज अदा करते मुस्लिम समुदाय के लोग. (सांकेतिक तस्वीर)

Gurugram Namaz Row: एक व्यक्ति नमाज़ अदा करने आने वाले लोगों से कहते सुना गया, “ इसे (भारत माता की जय) क्यों नहीं कह सकते हो? क्या पाकिस्तान में रहते हो.” प्रशासन और पुलिस ने अबतक कोई बयान जारी नहीं किया है. इस बीच, शहर में मस्जिदों की कमी के चलते प्रशासन ने नमाज़ अदा करने के लिए जिन स्थानों को चिन्हित किया है, उनमें से ज्यादातर स्थानों पर नमाज़ हुई है.

अधिक पढ़ें ...

    गुरुग्राम (हरियाणा). हरियाणा के गुरुग्राम में खुले में नमाज़ को लेकर शुक्रवार को दक्षिणपंथी समूह के कार्यकर्ताओं और नमाज़ अदा करने आने वाले लोगों के बीच ‘भारत माता की जय’ का नारा लगाने को लेकर तीखी बहस हुई. संघर्ष के कई वीडियो सामने आए हैं और बताया जाता है कि ये उद्योग विहार में शूट किये गए हैं. इनमें दिख रहा है कि पुलिस स्थल पर पहुंच रही है और दोनों समूहों से बातचीत कर रही है.

    एक व्यक्ति नमाज़ अदा करने आने वाले लोगों से कहते सुना गया, “ इसे (भारत माता की जय) क्यों नहीं कह सकते हो? क्या पाकिस्तान में रहते हो.” प्रशासन और पुलिस ने अबतक कोई बयान जारी नहीं किया है. इस बीच, शहर में मस्जिदों की कमी के चलते प्रशासन ने नमाज़ अदा करने के लिए जिन स्थानों को चिन्हित किया है, उनमें से ज्यादातर स्थानों पर नमाज़ हुई है.

    सेक्टर 37 के मैदान में नमाज अदा नहीं की गई
    बहरहाल, मुसलमानों ने सेक्टर 37 के मैदान में जाने से परहेज़ किया, जहां हिंदू धार्मिक कार्यक्रम चल रहा है. सेक्टर 37 का मैदान उन 20 स्थलों में शामिल है, जिसे प्रशासन ने जुमे (शुक्रवार की) की नमाज के लिए चिन्हित किया है.

    नमाज विवाद: पूर्व राज्यसभा सदस्य शीर्ष अदालत पहुंचे, अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग
    एक दिन पहले गुरुवार को ही राज्यसभा के एक पूर्व सदस्य ने उच्चतम न्यायालय का रुख कर यहां नमाज विवाद को लेकर हरियाणा के पुलिस महानिदेशक और मुख्य सचिव के खिलाफ कार्रवाई की मांग है. उनके इस कदम पर एक दक्षिणपंथी संगठन ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए उन पर ना सिर्फ लोगों को भड़काने का आरोप लगाया था, बल्कि शुक्रवार को खुले में नमाज अदा किये जाने के खिलाफ चेतावनी भी दी थी.

    याचिका में राज्य के मुख्य सचिव और डीजीपी पर लगाए ये आरोप
    याचिका मोहम्मद अदीब ने दायर की है, जो गुरुग्राम निवासी हैं. उन्होंने राज्य के मुख्य सचिव और डीजीपी पर आरोप लगाया है कि वे घृणा अपराधों का कारण बनने वाले साम्प्रदायिक एवं हिंसक भावनाओं पर रोक लगाने के अदालत के निदेर्शों का अनुपालन करने में नाकाम रहे हैं.

    Tags: Gurugram, Namaz

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर