ABVP अध्यक्ष सुबैया के खिलाफ उत्पीड़न का केस वापस लेगी महिला, पार्किंग को लेकर हुआ था झगड़ा

ABVP अध्यक्ष सुबैया के खिलाफ उत्पीड़न का केस वापस लेगी महिला, पार्किंग को लेकर हुआ था झगड़ा
अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के अध्यक्ष डॉक्टर एस सुब्बैया शनमुगम (फोटो- Subbiah Shanmugam Facebook page)

ABVP ने शनिवार देर रात को ही दावा किया था कि उनके अध्यक्ष के खिलाफ केस वापस ले ली गई है. लेकिन समझौते की चिट्ठी पर अपार्टमेंट के एसोसिएशन और महिला ने हस्ताक्षर नहीं किए थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 27, 2020, 12:07 PM IST
  • Share this:
चेन्नई. अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के अध्यक्ष डॉक्टर एस सुबैया शनमुगम के खिलाफ उत्पीड़न की शिकायत वापस ले ली गई है. पिछले दिनों 62 साल की एक महिला ने उनके खिलाफ पार्किंग को लेकर झगड़े के बाद पुलिस में शिकायत की थी. इसके बाद चेन्नई की पुलिस ने उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था. हालांकि औपचारिक तौर पर शिकायत वापस नहीं ली गई है. इस बीच महिला ने कहा है कि वो कोर्ट-कचहरी के चक्कर में नहीं पड़ना चाहती है.

ये भी पढ़ें- भारत में अब PUBG समेत करीब 275 चीनी ऐप्स हो सकते हैं बैन, सरकार कर रही जांच

कैसे हुई सुलह?
ABVP ने शनिवार देर रात को ही दावा किया था कि उनके अध्यक्ष के खिलाफ केस वापस ले ली गई है. लेकिन समझौते की चिट्ठी पर अपार्टमेंट के एसोसिएशन और महिला ने हस्ताक्षर नहीं किए थे. इस बीच अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत करते हुए महिला के भतीजे ने कहा, 'इस केस में प्राथमिकी दर्ज की गई है. हमारा पूरा परिवार तनाव में है. अगर हम इसे आगे बढ़ाते हैं, तो ये वास्तव में शिकायतकर्ता के लिए एक लंबी प्रक्रिया होने वाली है. मैंने आरोपी के साथ बातचीत भी की और उसने मुझे बताया कि वो मेरी चाची और उसके परिवार के साथ अच्छे संबंध बनाना चाहता है. इसलिए हमने केस को वापस लेने का मन बनाया है. मैं औपचारिक रूप से शिकायत वापस लेने के लिए पुलिस को अपना पत्र सौंपूंगा.'
क्या है पूरा मामला?


महिला के मुताबिक, उनका सुबैया के साथ पार्किंग को लेकर झगड़ा हुआ था. दरअसल सुबैया महिला की जगह में अपनी गाड़ी पार्क करते थे. जब महिला ने पार्किंग के लिए पैसे मांगे तो सुबैया झगड़ा करने लगे और फिर वो कथित रूप से उन्हें परेशान करने लगे. 11 जुलाई को पूरे घटना को लेकर अदामबक्कम पुलिस स्टेशन में शिकायत की गई है. उन्होंने पुलिस को सीसीटीवी की फुटेज भी दी है जिसमें देखा जा सकता है कि सुबैया दरवाजे पर पेशाब कर रहे हैं. इसके अलावा इस्तेमाल किए हुए सर्जिकल मास्क भी घर के आगे फेंक दिए.

क्या कहा था ABVP ने?
एबीवीपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने सारे आरोपों को झूठा बताया था. उनका कहना है कि सीसीटीवी फुटेज के साथ छेड़छाड़ की गई है. बता दें कि सुबैया किलपॉक मेडिकल कॉलेज में प्रोफेसर हैं. एबीवीपी की राष्ट्रीय महासचिव निधि त्रिपाठी ने माना था कि महिला और सुबैया के परिवार के बीच पार्किंग स्लॉट को लेकर अनबन हुई थी, लेकिन बाद में दोनों परिवारों ने इस पर चर्चा की और मामला सुलझ गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading