जब तक कोरोना से हालात सामान्य नहीं होते, तब तक शुरू नहीं होंगी अंतरराष्ट्रीय उड़ान

जब तक कोरोना से हालात सामान्य नहीं होते, तब तक शुरू नहीं होंगी अंतरराष्ट्रीय उड़ान
नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर वंदे भारत मिशन के बारे में जानकारी दी है. (फाइल फोटो)

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री (Civil Aviation Minister) हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर वंदे भारत मिशन (Vande Bharat Mission) के बारे में जानकारी दी है. उसी दौरान उन्होंने कहा है कि भारत सरकार एयर इंडिया (Air India) की मदद करने की स्थिति में नहीं है.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत के केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री (Civil Aviation Minister) हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने प्रेस कॉन्प्रेंस कर वंदे भारत मिशन (Vande Bharat Mission) के बारे में विस्तार से जानकारी दी है. उन्होंने बताया है कि अब तक इस मिशन के तहत 2 लाख 80 हजार भारतीयों को स्वदेश वापस लाया जा चुका है. स्वदेश लाए जाने वाले लोगों में बड़ी संख्या पश्चिमी एशिया में रह रहे भारतीयों की है. यूएई से बड़ी संख्या में लोग वापस लाए गए हैं जबकि अमेरिका से अब तक तीस हजार लोगों को वापस लाया गया है.

कब तक होगी अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट्स की शुरुआत
अंतराराष्ट्रीय फ्लाइट्स की दोबारा शुरुआत पर पुरी ने कहा है कि कुछ देशों के साथ रूट को लेकर बातचीत फाइनल हो चुकी है जबकि कुछ अन्य देशों के साथ बातचीत जारी है. गौरतलब है कि भारत ने सभी अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट्स पर इस वक्त प्रतिबंध लगा रखा है. इसे लेकर यूएई और अमेरिका जैसे देश नाराजगी भी जाहिर कर चुके हैं. पुरी कहा है कि जब अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन कोविड-19 से पहले वाली स्थिति में नहीं आ जाता तब तक एयर बबल्स के जरिए ही दो देशों के बीच यात्रा का विकल्प सही है. हम उसी की कोशिश कर रहे हैं.





एयर इंडिया की मदद करने की स्थिति में नहीं सरकार
नागरिक उड्डयन मंत्री ने यह भी बताया है कि भारत सरकार एयर इंडिया की मदद करने की स्थिति में नहीं है. गौरतलब है कि बुधवार को खबर आई थी कि एयर इंडिया बोर्ड अपने कर्मचारियों को पांच साल तक की लंबी छुट्टी पर भेजने का प्रावधान कर रहा है.

इसके लिए एयर इंडिया बोर्ड की मंजूरी मिल गई है. बोर्ड ने चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर को एयर इंडिया के कुछ स्टाफ को बिना वेतन के पांच साल तक के छुट्टी पर भेजने की सिफारिश करने की इजाजत दे दी है. योजना के तहत एयर इंडिया के कर्मचारियों को 6 महीने के अवैतनिक अवकाश  पर भेजने के बाद इसे 60 महीने यानी 5 साल तक के लिए बढ़ाया जा सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading