क्या राहुल गांधी के इशारों पर सचिन पायलट के लिए अब भी खुले हैं कांग्रेस के दरवाजे?

क्या राहुल गांधी के इशारों पर सचिन पायलट के लिए अब भी खुले हैं कांग्रेस के दरवाजे?
राहुल गांधी के साथ सचिन पायलट

Rajasthan Crisis: सूत्रों ने कहा कि सचिन पायलट (Sachin Pilot) को राजस्थान के उपमुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस कमेटी (पीसीसी) के प्रमुख पद से बर्खास्त कर दिया गया है. इसके बावजूद पार्टी के एक नेता पायलट के संपर्क में हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 16, 2020, 10:05 AM IST
  • Share this:
(ज़ेबा वारसी)

नई दिल्ली. सचिन पायलट ( (Sachin Pilot)  के राजनीतिक भविष्य को लेकर तमाम तरह की अटकलें लगाई जा रही है. ऐसा लग रहा है कि राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के इशारों के चलते पायलट के लिए अब भी वापसी के दरवाजे बंद नहीं हुए हैं. जबकि बुधवार को राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत  (CM Ashok Gehlot) ने पायलट पर एक के बाद एक करारे हमले किए. इसके बावजूद कांग्रेस की तरफ से बार-बार सचिन पायलट को पार्टी में वापस आने के लिए कहा जा रहा है.

राहुल के करीबी पायलट!
सचिन पायलट का इस तरह जाना कांग्रेस के लिए बड़ा नुकसान माना जा रहा है. कहा जा रहा है कि पार्टी ने एक युवा चेहरे को खो दिया है, जिसे उसने खुद तैयार किया था. पायलट भी ज्योतिरादित्य सिंधिया की तरह राहुल गांधी के खेमे से थे. जब सिंधिया पार्टी को छोड़ कर गए थे तब भी कांग्रेस की जम कर आलोचना हुई थी. कहा गया था कि पार्टी ने युवा प्रतिभा को रोकने की कोशिश नहीं की. शायद यही वजह है कि कांग्रेस इस बार पायलट से वापसी के लिए बार-बार अपील कर रही है.
वापसी के लिए अपील


सूत्रों के मुताबिक राहुल गांधी नहीं चाहते हैं कि पायलट पार्टी छोड़ कर जाएं. सूत्रों ने कहा कि सचिन पायलट को बेशक उपमुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस कमेटी (पीसीसी) के प्रमुख पद से हटा दिया गया है. इसके बावजूद पार्टी के एक नेता उनके संपर्क में हैं. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा है कि कोई भी परिवार में वापस आ सकता है. उन्होंने ये भी कहा कि अगर किसी को कोई दिक्कत है तो वो पार्टी में आ कर बात कर सकते हैं. उन्होंने पायलट को युवा और होनहार नेता भी कहा.

आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी
सचिन पायलट खेमा लगातार सीएम अशोक गहलोत पर कई तरीके के आरोप लगा रहा है. वहीं, सीएम अशोक गहलोत का कहना है कि इनमें परिपक्वता का अभाव है इनकी रगड़ाई ठीक से नहीं हुई है. सियासी जुमलेबाजी के बीच सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि वो इस नई पीढ़ी को प्यार करते हैं और आने वाला कल उनका है, लेकिन साथ ही वो नसीहत भी देते हैं कि इनकी रगड़ाई ठीक से हुई होती तो ये अच्छा काम करते.

वहीं, पायलट का कहना है कि राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष पद से हटने के बाद से ही गहलोत उनको निशाना बना रहे हैं. उनकी गहलोत से कोई दुश्मनी नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading