हाथरस जाते समय गिरफ्तार केरल के पत्रकार की मदद करेंगे राहुल, PFI से जुड़े होने का है आरोप

राहुल गांधी ने केरल के पत्रकार के परिवार को मदद का भरोसा दिया है (File Photo)
राहुल गांधी ने केरल के पत्रकार के परिवार को मदद का भरोसा दिया है (File Photo)

Hathras Case: केरल (Kerala) के पत्रकार सिद्दीक कप्पन (Journalist Siddique Kappan) को दलित लड़की से कथित सामूहिक बलात्कार और फिर उसकी मौत के बाद हाथरस जाने के दौरान यूपी के टोल प्लाजा पर गिरफ्तार किया गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 21, 2020, 4:59 PM IST
  • Share this:
वायनाड. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Former Congress President Rahul Gandhi) से उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में गिरफ्तार किए गए केरल (Kerala) के पत्रकार सिद्दीक कप्पन (Journalist Siddique Kappan) के परिवार ने मुलाकात की. राहुल गांधी अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड (Waynad) के दौरे पर हैं. कप्पन के परिवार ने कालापेट्टा (Kalapetta) में एक रेस्ट हाउस में कांग्रेस नेता और वायनाड के सांसद राहुल गांधी (Waynad's MP Rahul Gandhi) से मुलाकात की और उनसे अनुरोध किया कि वो इस मामले में हस्तक्षेप करें और पत्रकार की जल्द रिहाई सुनिश्चित करें. कप्पन को 6 अक्टूबर को हाथरस (Hathras) जाते समय यूपी के टोल प्लाजा पर गिरफ्तार किया गया था. कप्पन पर पीएफआई से जुड़े होने का भी आरोप है.

राहुल गांधी से मुलाकात के बाद कप्पन की पत्नी रेहानथ ने कहा कि मेरे पति की रिहाई के लिए हर तरह की मदद देने के लिए सहमत हुए हैं. वह राहुल गांधी के हाथरस जाने के बाद वहां जा रहे थे जब उन्हें गिरफ्तार किया गया था. उन्होंने कहा कि हम चिंतित हैं क्योंकि वकील भी उनसे नहीं मिल पाए हैं. बता दें कप्पन के साथ तीन अन्य लोगों को भी गिरफ्तार किया गया था. इन लोगों को कोई संज्ञेय अपराध करने की मंशा रखने के शक में सीआरपीसी की धारा 151 के तहत गिरफ्तार किया था लेकिन चारों के खिलाफ बाद में राजद्रोह और आतंकवाद रोधी कानून के तहत मामला दर्ज किया गया. उन्हें सात अक्टूबर को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था. आज हुई सुनवाई में उनकी न्यायिक हिरासत को मंगलवार तक बढ़ा दिया गया है.

ये भी पढ़ें- बड़ी खबर! उपचुनाव से ठीक पहले सिंधिया खेमे के दो मंत्रियों ने दिया इस्‍तीफा



इन आरोपों में किया गया है गिरफ्तार
इन चारों लोगों पर कथित कट्टरपंथी समूह पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया और उससे संबद्ध संगठनों से संबंध रखने का आरोप है. उनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 124 ए (राजद्रोह), 153 ए (दो समूहों में धार्मिक आधार पर शत्रुता को बढ़ाना) और 295ए (धार्मिक भावनाओं को आहत करना) के तहत मामला दर्ज किया गया है. चारों पर यूएपीए कानून की धाराएं भी लगाई गई हैं.

राहुल गांधी पर योगी ने साधा निशाना
वहीं बिहार के जमुई में अपनी एक रैली के दौरान योगी आदित्यनाथ ने राहुल गांधी को पाकिस्तान समर्थक करार दिया. योगी ने कहा कि राहुल गांधी और असदुद्दीन ओवैसी कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने से दुखी हैं और पाकिस्तान की तारीफ करते हैं. योगी ने कहा कि जो पाकिस्तान की तारीफ करते हैं वो देश का हित कैसे करेंगे. जो देश के हित की नहीं सोचते उन्हें राजनीति करने का अधिकार नहीं है. योगी के बयान पर कांग्रेस ने जवाब दिया कि भारतीय जनता पार्टी असल मुद्दों से जनता का ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है. (भाषा के इनपुट सहित)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज