'मुस्लिम ड्राइवर के कारण कैंसिल कर दी कैब'- ट्वीट पर बने ये मजेदार मीम्स

'मुस्लिम ड्राइवर के कारण कैंसिल कर दी कैब'- ट्वीट पर बने ये मजेदार मीम्स
ओला कैब कैंसिल करने वाले ट्वीट पर लोग मजेदार जोक्स शेयर कर रहे हैं.

एक यूजर ने लिखा, "ओला कैब कैंसिल कर दी क्योंकि ड्राइवर का सरनेम मोदी था. जैगुआर का वादा कर वह बैलगाड़ी लेकर आ गया था."

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 23, 2018, 8:40 PM IST
  • Share this:
विश्व हिंदू परिषद से जुड़े एक युवक का ट्वीट पिछले दिनों वायरल हो गया था. इस युवक ने ट्वीट किया था कि उसने ओला राइड इसलिए कैंसिल कर दी क्योंकि ड्राइवर एक मुस्लिम था. इस ट्वीट पर काफी विवाद हुआ था.

खुद को हिंदुत्व थिंकर बताने वाले अभिषेक मिश्रा ने 20 अप्रैल को अपनी ओला कैंसिल कर दी थी. मिश्रा ने लिखा था कि वह अपने पैसे 'जिहादियों' को नहीं देना चाहता. ट्वीट के साथ उसने राइड कैंसिल करने का स्क्रीन शॉट भी भेजा था जिसमें ड्राइवर का नाम मसूद आलम दिख रहा था.

सोशल मीडिया पर कई लोग इस ट्वीट से आहत हुए तो कई ने इस पर जोक्स बनाने का मौका नहीं छोड़ा. रातों रात इस ट्वीट पर कई मजेदार मीम्स बन गए. मीम आर्मी ने मोदी, अरविंद केजरीवाल, राहुल गांधी किसी को भी नहीं बख्शा.



आइए देखते हैं कुछ मजेदार ट्वीट्सः
आवी नाम की एक यूजर ने लिखा, 'ओला कैब कैंसिल कर दी क्योंकि ड्राइवर का नाम अच्छे दिन था और चार साल हो गए वह अब तक नहीं आया है.'
वहीं ए पूर्वा ने लिखा, 'ओला कैब कैंसिल कर दी क्योंकि ड्राइवर का नाम विकास था और मुझे उसके आने की उम्मीद नहीं थी.'साहिल रिजवान ने एक स्क्रीनशॉट शेयर किया जिसमें ड्राइवर का नाम 'भगवान' था. उसने लिखा, "ओला कैब कैंसिल कर दी क्योंकि मैं भगवान पर विश्वास नहीं करता."एक अन्य यूजर ने लिखा, "ओला कैब कैंसिल कर दी क्योंकि ड्राइवर का नाम आतिफ था और वह फोन पर 'हम किस गली जा रहे हैं' चिल्लाने लगा."ट्रेंडुलकर ने राहुल गांधी की फोटो शेयर करते हुए लिखा, "ओला राइड कैंसिल कर दी क्योंकि यह मेरा सहयात्री था."वहीं एक ने लिखा, 'ओला कैब कैंसिल कर दी क्योंकि ड्राइवर का नाम अरविंद था. मुझे डर था कि वह यू-टर्न ही लेता रहेगा और 49 मीटर चलने के बाद धरने पर बैठ जाएगा.'एक यूजर ने लिखा, "ओला कैब कैंसिल कर दी क्योंकि ड्राइवर का सरनेम मोदी था. जैगुआर का वादा कर वह बैलगाड़ी लेकर आ गया था."


अभिषेक मिश्रा के ट्वीट के जवाब में ओला ने लिखा था, "हमारे देश की तरह ही ओला भी सेक्युलर है. हम जाति, पंथ, रंग और धर्म के आधार पर अपने ग्राहकों और ड्राइवरों में भेद नहीं करते और अपने ग्राहकों और ड्राइवरों से भी यही उम्मीद करते हैं."
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading