राजस्थान को लेकर ट्विटर पर भिड़े कुमारस्वामी और कांग्रेस, एक-दूसरे पर लगाए आरोप

राजस्थान को लेकर ट्विटर पर भिड़े कुमारस्वामी और कांग्रेस, एक-दूसरे पर लगाए आरोप
कुमारस्वामी के एक बयान पर बवाल मच गया है. (फाइल फोटो)

कर्नाटक (Karnataka) के पूर्व मुख्यमंत्री (Former CM) ने कांग्रेस को हॉर्स ट्रेडिंग (Horse Trading) का दूसरा नाम बताया था. इस पर कांग्रेस ने भी तीखी प्रतिक्रिया दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 29, 2020, 10:07 PM IST
  • Share this:
बेंगलुरु. राजस्थान के सियासी संकट (Rajasthan Political Crisis) को लेकर कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी (HD Kumaraswamy) के बयान पर बवाल मच गया है. दरअसल मंगलवार को एचडी कुमारस्वामी ने कहा था कि कांग्रेस हॉर्स ट्रेडिंग (विधायकों-सांसदों की खरीद-फरोख्त के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला टर्म) का दूसरा नाम है.

इस बयान पर प्रतक्रिया देते हुए अब कांग्रेस ने कहा है-क्या आप इतने मासूम हैं कि किसी पार्टी में विधायकों का अपनी इच्छा से जाना और उन पर दबाव बनाकर शामिल कराने में भेद नहीं कर पा रहे हैं. कांग्रेस ने ऑपरेशन कमल का भी जिक्र किया है.

कांग्रेस ने बोला तीखा हमला
कांग्रेस ने कुमारस्वामी पर तीखा हमला बोलते हुए कहा है- 'जब राज्य में हमारे समर्थन से आपने सरकार बनाई और मुख्यमंत्री बने तब कांग्रेस के उसूल ठीक थे? अब जब आप पावर में नहीं है तो आपको ये सबकुछ याद आ रहा है. अब जबकि राज्य मुश्किल में है और एक पार्टी जो कहीं दिख नहीं रही है और अप्रासंगिक हो चुकी है उसे, हम पर कमेंट करने का क्या नैतिक अधिकार है?'
कुमारस्वामी ने दिया जवाब


इस पर जवाब देते हुए कुमारस्वामी ने कहा है-मुझ पर अप्रासंगिक और गायब हो जाने का आरोप लगाया गया है. आखिर देश के कितने ऐसे राज्य हैं जहां पर कांग्रेस दिखाई दे रही है और प्रासंगिक है. अपने मन से कांग्रेस ज्वाइन करने वाले विधायकों और ऑपरेशन कमल के बीच बेहद बारीक रेखा ही है. दुखद है कांग्रेस निचले स्तर तक गिर गई है. कांग्रेस की हालिया बुरी हालत के पीछे यही कारण है.'

एक दिन पहले क्या बोले थे कुमारस्वामी
दरअसल मंगलवार को कुमारस्वामी ने कहा था कि कांग्रेस ने बीजेपी के खिलाफ लोकतंत्र बचाओ अभियान शुरू किया है. ये अभियान लोकतांत्रितक तरीके से चुनी गई सरकार को गिराने के खिलाफ शुरू किय गया है. लेकिन क्या कांग्रेस ने राजस्थान में सरकार बनाने के लिए बहुजन समाज पार्टी के विधायकों को नहीं फुसलाया था. क्या यह हॉर्स ट्रेडिंग नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading