कोरोना के हालात पर स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने की अहम बैठक, कहा- वैक्सीन की कोई कमी नहीं

कोरोना के हालात पर स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने की अहम बैठक. (फाइल फोटो)

कोरोना के हालात पर स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने की अहम बैठक. (फाइल फोटो)

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन (Dr. Harsh Vardhan) ने कोरोना (Corona) पर अहम बैठक करते हुए कहा, कई राज्‍यों में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्‍या तेजी से बढ़ रही है, जिसे देखते हुए वेंटीलेटर की पर्याप्‍त व्‍यवस्‍था की जा रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 17, 2021, 1:06 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश में तेजी से बढ़ते कोरोना (Corona) संक्रमण के मामलों को देखते हुए सरकार ने एक बार फिर कमर कस ली है. केंद्र सरकार की ओर से साफ किया गया है कि किसी भी राज्‍य में कोरोना वैक्‍सीन (Corona Vaccine) की कमी नहीं होने दी जाएगी. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन (Dr. Harsh Vardhan) ने कोरोना के हालात पर अहम बैठक करते हुए कहा, कई राज्‍यों में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्‍या तेजी से बढ़ रही है, जिसे देखते हुए वेंटीलेटर की पर्याप्‍त व्‍यवस्‍था की जा रही है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा देश में अब तक 12 करोड़ लोगों को कोरोना वैक्‍सीन दी जा चुकी है. राज्‍यों की ओर से ऐसी शिकायत आई थी कि वैक्‍सीन कम हो रही है. राज्‍यों की शिकायत को देखते हुए आज सुबह तक राज्यों को 14 करोड़ 15 लाख डोज वैक्सीन की सप्लाई की जा चुकी है. राज्यों के पास अभी भी 1 करोड़ 58 लाख डोज हैं जबकि 1 करोड़ 16 लाख 84 हजार डोज अगले एक हफ्ते के लिए पाइपलाइन में हैं.



इसे भी पढ़ें :- प्लाज्मा, रेमडेसिविर या अस्पताल में नहीं मिल रहा बेड? कोरोना मरीज़ों की मदद कर रहे ये 'सोशल सूरमा'
डॉ. हर्षवर्धन ने बताया कि 34,238 वेंटीलेटर राज्यों को भारत सरकार की तरफ से भिजवाए गए थे. इसमें महाराष्ट्र को 1121 वेंटीलेटर जबकि यूपी को 1700 वेंटीलेटर उपलब्‍ध कराए गए हैं. उन्‍होंने कहा कि 2084 डेडीकेटेड कोविड हॉस्पिटल हैं, जिनमें 4 लाख से ज्यादा बेड हैं. कोविड अस्‍पताल के बेड मिलाकर 18 लाख 52 हजार हैं. कुछ शहरों में कोविड का प्रकोप ज्यादा है ऐसे में उन पर विशेष नजर रखी जा रही है.

इसे भी पढ़ें :- Explained: कोरोना मरीजों पर कैसे काम करता है वेंटिलेटर?

कोविड-19 के प्रति लापरवाही का दिख रहा असर



इससे पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा था कि लोगों ने कोविड-19 महामारी के प्रति लापरवाही भरा रुख अपनाया जो बहुत खतरनाक है. उन्होंने कहा कि संक्रमण की श्रृंखला तोड़ने के लिए कोविड उपयुक्त व्यवहार सबसे बड़ा सामाजिक उपकरण है. उन्होंने कोविड-19 मामलों में वृद्धि के मद्देनजर स्वास्थ्य सुविधाओं के बुनियादी ढांचे का आकलन करने के लिए दिल्‍ली के एम्स ट्रॉमा सेंटर का दौरा करने के बाद यह टिप्पणी की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज