पत्रकार की आत्महत्या के बाद एक्‍शन में हर्षवर्धन, AIIMS ट्रामा सेंटर के मेडिकल सुपरिटेंडेंट को हटाया

पत्रकार की आत्महत्या के बाद एक्‍शन में हर्षवर्धन, AIIMS ट्रामा सेंटर के मेडिकल सुपरिटेंडेंट को हटाया
स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने एक बड़ा फैसला लिया है. (फाइल फोटो)

हेल्थ मीनिस्टर डॉ. हर्ष र्धन (Harsh Vardhan) ने एम्स ट्रॉमा सेंटर (JPNATC ) के मेडिकल सुपरिटेंडेंट फौरन हटाने का निर्देश दिया है. मालूम हो कि 6 जुलाई को कोरोना संक्रमित मरीज तरुण सिसोदिया (Tarun Sisodia) ने ट्रॉमा सेंटर की चौथी मंजिल से छलांग लगा दी थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 10, 2020, 10:49 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (Delhi) में एक पत्रकार की खुदकुशी (Journalist Suicide) के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री (Harsh Vardhan)  ने एक बड़ा फैसला लिया है. हेल्थ मीनिस्टर डॉ. हर्ष र्धन ने एम्स ट्रॉमा सेंटर (JPNATC )  के मेडिकल सुपरिटेंडेंट फौरन हटाने का निर्देश दिया है. मालूम हो कि 6 जुलाई को कोरोना संक्रमित मरीज तरुण सिसोदिया ने ट्रॉमा सेंटर की चौथी मंजिल से छलांग लगा दी थी और उनकी मौत हो गई.

बता दें कि शुक्रवार को ही दिल्ली एम्स (AIIMS, Delhi) के एक डॉक्टर (Doctor) ने खुदकुशी (Suicide) की कोशिश की है. पुलिस के मुताबिक, एम्स के एक 25 साल के जूनियर रेजिडेंट डॉक्टर ने शुक्रवार को एम्स हॉस्टल की 10 वीं मंजिल से कथित तौर पर छलांग लगा दी. फिलहाल, उसे एम्स में भी भर्ती किया गया है, जहां उसका इलाज किया जा रहा है. घायल जूनियर डॉक्टर की हालत नाजुक बताई जा रही है. बता दें कि कुछ दिन पहले ही में मौलाना आजाद डेन्टल इंस्टीट्यूट साइंसेज (एमएआईडीएस) में जूनियर रेजिडेंट डॉक्टर के पद पर ओरल सर्जरी ऑफ डेंटल इंस्टीट्यूट में कार्यरत डॉ अभिषेक भयाना की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई थी. परिजनों का कहना था कि वह स्वस्थ था और अचानक से उसे परेशानी होने लगी. जब तक उसे ऑक्सीजन दी जाती है तब तक बहुत देर हो चुकी थी.


आईआईटी के प्रोफेसर ने भी की थी खुदकुशी



हाल ही में आईआईटी कानपुर (IIT Kanpur) के कंप्यूटर साइंस विभाग के सहायक प्रोफेसर प्रमोद सुब्रमण्यन ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी. आईआईटी कैंपस में ही प्रोफेसर प्रमोद ने सुसाइड किया था. आईआईटी प्रबंधन ने घटना की जानकारी पुलिस को दी. सूचना मिलने पर कल्याणपुर पुलिस मौके पर पहुंची. प्रारंभिक जांच में किसी तरह के सुसाइड नोट (Suicide Note) नहीं मिलने की बात पुलिस ने कही थी.

ये भी पढ़ें: दिल्ली AIIMS के रेजिडेंट डॉक्टर ने हॉस्टल की 10वीं मंजिल से लगाई छलांग, हालत नाजुक

मिली जानकारी के मुताबिक प्रोफेसर प्रमोद सुब्रमण्यन अपने परिवार के साथ आईआईटी कैंपस में ही रहते थे. हालांकि, मौके से पुलिस को कोई सुसाइड नोट नहीं मिलने के कारण अभी तक खुदकुशी के पीछे कारणों का पता नहीं चल सका. आईआईटी कानपुर मीडिया सेल के मुताबिक, मौके से किसी तरह का सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है. फिलहाल, पुलिस हर पहलु पर मामले की जांच कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading