कम्‍युनिटी ट्रांसमिशन के पुख्‍ता सबूत नहीं, 17 राज्‍यों में बन रहे कोरोना अस्‍पताल : MHA

कम्‍युनिटी ट्रांसमिशन के पुख्‍ता सबूत नहीं, 17 राज्‍यों में बन रहे कोरोना अस्‍पताल : MHA
स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने की प्रेस कॉन्‍फ्रेंस.

देश में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) के 649 मामलों की पुष्टि हुई है. स्‍वास्थ्‍य मंत्रालय के अनुसार 17 राज्‍यों में विशेष अस्‍पताल बनाए जा रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 26, 2020, 5:44 PM IST
  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्‍ली. देश में बढ़ते कोरोना वायरस (Coronavirus) के खतरे को देखते हुए सरकारी स्‍तर पर प्रयास जारी हैं. गुरुवार को स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय (MHA) ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करके इस संबंध में जानकारी दी. स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार, 'अभी यह कहने के लिए हमारे पास कोई पुख्ता सबूत नहीं है कि भारत में कोरोना वायरस संक्रमण (Covid 19) का प्रसार समुदाय (Community Transmission) के स्तर पर हो रहा है.' उनके मुताबिक देश में कोविड 19 संक्रमण के मामले तो बढ़ रहे हैं लेकिन इनके बढ़ने की दर स्थिर हो रही है. हालांकि यह प्रारंभिक ट्रेंड है.

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के ज्‍वाइंट सेक्रेटरी लव अग्रवाल के मुताबिक देश में कोरोना वायरस का सामुदायिक प्रसार तभी होगा जब समाज और सरकार मिलकर काम नहीं करेंगे. ऐसा तब संभव है जब हम दिशानिर्देशों का अनुपालन नहीं करेंगे. अगर हम सोशल डिस्‍टेंसिंग और सही इलाज को अपनाएंगे तो देश में ऐसा नहीं होगा.

उन्होंने इस बात से भी इनकार किया कि यह वायरस मच्छरों के जरिए फैलता है. आम जनता को आश्वासन देते हुए अग्रवाल ने कहा कि भारत कोरोना वायरस संक्रमण की चुनौती से निपटने के लिए तैयार है.



 






24 घंटे में 42 नए मामले
स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने जानकारी दी कि देश में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के 649 मामले सामने आ चुके हैं. देश में अभी तक इस वायरस के संक्रमण से 13 लोगों की मौत हुई है. अंतिम तीन मौतें गुजरात, तमिलनाडु और मध्य प्रदेश में हुई हैं. पिछले 24 घंटे में 42 नए मामले सामने आए हैं. साथ ही मौत के 4 नए मामले भी देखने को मिले.

 



स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार देश के 17 राज्‍यों में कोरोना वायरस संक्रमित लोगों के इलाज के लिए अलग से अस्‍पतालों के निर्माण के लिए काम शुरू हो गया है.

 



अग्रवाल ने कहा, 'अगर हम 100 प्रतिशत सामाजिक मेलजोल कम करने में सफल रहे तो हम कोरोना वायरस संक्रमण की प्रसार श्रंखला को प्रभावी तरीके से तोड़ सकेंगे.' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार की रात बेहद भावुक अपील में 21 दिन लंबे राष्ट्रव्यापी संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की थी.

1.70 लाख करोड़ का राहत पैकेज
बता दें कि कोरोना वायरस (Coronavirus) संकट से निपटने के लिए सरकार ने राहत पैकेज की घोषणा की है. वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने गरीबों, मजदूरों, कर्मचारियों के लिए 1.70 लाख करोड़ के पैकेज का ऐलान किया है. इसका नाम प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज है. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत गरीबों को कैश ट्रांसफर किया जाएागा. इसके अलावा 3 महीनों तक एम्प्लॉई और एम्प्लॉयर दोनों के हिस्से का योगदान सरकार करेगी.

यह भी पढ़ें:- बंद हो सकती हैं अधिकतर बैंक, कैश विड्रॉल के लिए नई व्यवस्था पर विचार
First published: March 26, 2020, 5:18 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading