Home /News /nation /

छठ पूजा में कोरोना नियमों के पालन के लिए शारदा सिन्हा देंगी संदेश, रिलीज होगा खास गीत

छठ पूजा में कोरोना नियमों के पालन के लिए शारदा सिन्हा देंगी संदेश, रिलीज होगा खास गीत

इस वर्ष छठ पूजा का त्योहार 8 नवंबर को नहाय-खाय के साथ शुरू होगा.

इस वर्ष छठ पूजा का त्योहार 8 नवंबर को नहाय-खाय के साथ शुरू होगा.

Chhath Puja and Covid Protocol: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कोरोना के मामले एक बार फिर कई राज्यों में बढ़ रहे हैं. ऐसे में त्योहारी सीजन में लोग कोरोना प्रोटोकॉल का पालन कर सकें, इसके लिए पूरी व्यवस्था की जा रही हैं. बयान में कहा या है कि वह आगामी छठ पूजा के दौरान कोविड सुरक्षित व्यवहार के पालन के लिए सार्वजनिक भागीदारी की मांग करने के लिए प्रसिद्ध लोक और शास्त्रीय गायिका और पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित शारदा सिन्हा द्वारा एक आडियो-विजुअल गीत जारी करेगा.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. भारत में कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की आशंकाओं के बीच आस्था के महापर्व छठ पूजा की तैयारियां जोरों पर हैं. छठ पूजा के मौके पर लोग कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करें इसके लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित लोक गायिका शारदा सिन्हा के गीत का सहारा लेगा. छठ के खास मौके पर शारदा सिन्हा का एक ऑडियो-विजुअल गीत जारी किया जाएगा, जिसमें कोरोना के नियमों का पालन करने के लिए खास संदेश दिया जाएगा.

    दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार ने भी राजधानी में सार्वजनिक छठ पूजा की इजाजत दे दी है. अब दिल्ली में भी छठ पूजा सार्वजनिक रूप से की जाएगी. यह पूजा सरकार द्वारा पहले से तय किए गए स्थानों पर बहुत सख्त प्रोटोकाल के साथ मनाई जाएगी. इस दौरान कोविड प्रोटोकाल के पालन के साथ सार्वजनिक स्थानों पर बेहद सीमित संख्या में लोगों को शामिल होने की इजाजत दी जाएगी.

    आस्था का महापर्व कहे जाने वाला छठ उत्तर भारत सहित देश के विभिन्न हिस्सों में पारंपरिक विधि-विधान के साथ मनाया जाता है. उत्तर भारतीय लोग विदेश में भी भिन्न-भिन्न जगहों पर इस त्योहार को मनाते हैं. कठिन नियम-निष्ठा के कारण छठ को सबसे बड़ा पर्व माना जाता है. यह त्योहार चार दिनों तक मनाया जाता है. इसकी शुरुआत नहाय-खाय के साथ होती है. छठ के त्योहार में महिलाएं संतान, परिवार और घर की सुख समृद्धि के लिए का निर्जला व्रत रखती हैं.

    इस वर्ष छठ पूजा का त्योहार 8 नवंबर को नहाय-खाय के साथ शुरू होगा. इसके अगले दिन यानी 9 नवंबर को खरना और 10 नवंबर को डूबते सूर्य को अर्घ्य दिया जायेगा. पूजा के अंत में 11 नवंबर की सुबह उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देकर छठ पूजा का समापन होगा.

    Tags: Bihar Chhath Puja, Chhath Puja, Chhath Puja 2021

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर