तेज बारिश से कर्नाटक के कई हिस्सों में तबाही, उडुपी जिला सबसे ज्यादा प्रभावित

कर्नाटक में तेज बारिश से जन-जीवन अस्तव्यस्त हुआ, बाढ़ वाले क्षेत्रों में राहत-बचाव कार्य शुरू.
कर्नाटक में तेज बारिश से जन-जीवन अस्तव्यस्त हुआ, बाढ़ वाले क्षेत्रों में राहत-बचाव कार्य शुरू.

कर्नाटक राज्य प्राकृतिक आपदा निगरानी केंद्र ((KSNDMC)) के अधिकारियों ने बताया कि उडुपी (Udupi) में स्थिति गंभीर है. जहां कई गांव पानी में डूब चुके हैं, जिससे कई मकान धराशायी (Many houses collapsed) हो गए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 20, 2020, 4:08 PM IST
  • Share this:
बेंगलुरु. कर्नाटक (Karnataka) के कुछ हिस्सों में पिछले कुछ दिनों से भारी बारिश (Heavy rain) की वजह से काफी तबाही हुई है. खास तौर पर बारिश से तटीय उडुपी जिला (Udupi district) सबसे ज्यादा प्रभावित है. जहां घर तथा फसलें पानी में डूब गई हैं, जिसके बाद राज्य सरकार ने आपदा मोर्चा बल के कर्मियों को बचाव कार्य में लगाया है. कर्नाटक राज्य प्राकृतिक आपदा निगरानी केंद्र (KSNDMC) के अधिकारियों ने बताया कि मलनाड, तटीय क्षेत्र और कुछ आंतरिक और उत्तरी जिलों में अगले कुछ दिनों तक भारी बारिश की संभावना है. जिसके चलते इन क्षेत्रों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है.

मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार कर्नाटक में दक्षिणी-पश्चिम मानसून की दूसरी लहर राज्य से टकरायी है. जबकि कोविड-19 महामारी के बीच उत्तरी कर्नाटक में आयी बाढ़ से राज्य अब तक ठीक से उबरा भी नहीं हैं. ऐसे में तेज बारिश ने एक बार फिर से लोगों को परेशानी में डाल दिया है. कर्नाटक राज्य प्राकृतिक आपदा निगरानी केंद्र के अधिकारियों ने बताया कि बारिश से उडुपी में स्थिति गंभीर है. जहां कई गांव पानी में डूब चुके हैं, जिससे कई मकान धराशायी हो गए हैं. जिले की अधिकाश सड़कें बह गई हैं और खेतों में लगी फसलें पूरी तरह से बर्बाद हो गई.






राज्य गृह मंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि, उन्होंने उडुपी जिला प्रशासन को तत्काल राहत कदम उठाने का निर्देश दिया है. मंत्री ने कहा कि वह राजस्व मंत्री आर अशोक से बचाव कार्य में वायु सेना का एक हेलीकॉप्टर लगाने का आग्रह करेंगे. वहीं कर्नाटक राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अधिकारी के अनुसार बचाव कार्य के लिए वहां एक हेलीकॉप्टर को तैयार रखा गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज