Weather Alert: तेलंगाना में मूसलाधार बारिश का अलर्ट, खुद CM चंद्रशेखर राव ने संभाला मोर्चा

अगले 24 घंटे में बिजली और तेज हवा के साथ गरज के साथ बड़े क्षेत्र में गतिविधि होने की संभावना है.
अगले 24 घंटे में बिजली और तेज हवा के साथ गरज के साथ बड़े क्षेत्र में गतिविधि होने की संभावना है.

भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना में सोमवार सुबह से ही तेज बारिश होने की संभावना है. मौसम विभाग ने बताया कि समुद्र के भी अशांत रहने की उम्मीद है, जिसके कारण लोगों को परेशानी हो सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 11, 2020, 5:54 PM IST
  • Share this:
हैदराबाद. उत्तरी अंडमान सागर के ऊपर बने कम दबाव के क्षेत्र के मजबूत होने और पूर्वी तट की ओर बढ़ने से ओडिशा से लेकर आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) के तट तक और कर्नाटक एवं तेलंगाना (Telanaga) में सोमवार और मंगलवार को भारी बारिश (Heavy Rain) होने की संभावना है. भारतीय मौसम विभाग (India Meteorological Department) की ओर से अगले दो दिन भारी बारिश की चेतावनी के बाद तेलंगाना के मुख्‍यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने खुद मोर्चा संभाल लिया है. सीएमओ की ओर से राज्य के लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है. रविवार को राज्य में कई हिस्सों में हो रही बारिश को देखते हुए मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव ने मुख्य सचिव सोमेश कुमार को पूरी आधिकारिक मशीनरी को हाई अलर्ट पर रखने के निर्देश दिए हैं.

सीएमओ की ओर से कहा गया है कि लगातार बारिश होने के कारण प्रदेश के कई हिस्सों में बाढ़ आने का खतरा है. कई निचले इलाकों पर लगातार नजर रखी जा रही है, अगर किसी तरह की कोई परेशानी होती है उन्हें वहां से निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जाएगा.

समुद्र के अशांत रहने की संभावना
भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना में सोमवार सुबह से ही तेज बारिश होने की संभावना है. मौसम विभाग ने बताया कि समुद्र के भी अशांत रहने की उम्मीद है, जिसके कारण लोगों को परेशानी हो सकती है. बिजली और तेज हवा के साथ गरज के साथ बड़े क्षेत्र में इस मौसम गतिविधि के साथ होने की संभावना है.
दिल्ली-NCR में भी बारिश के आसार


भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की ओर से अनुमान जताया गया है कि आगामी सप्ताह 15 से 17 अक्टूबर के बीच दिल्ली-एनसीआर में हल्की बारिश भी हो सकती है. पूर्वी भारत में बिहार, झारखंड और पूर्वी उत्तर प्रदेश के भी कुछ इलाकों में इस सिस्टम के कारण बारिश होने की संभावना है. डिप्रेशन के प्रभाव से आंध्र प्रदेश के साथ-साथ तमिलनाडु, तेलंगाना, ओडिशा, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, गोवा और गुजरात तक बारिश दर्ज की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज