दमघोंटू हवा से दिल्ली को तेज बारिश ने दी राहत; हरियाणा, राजस्‍थान समेत इन राज्‍यों में बरसे बादल

इस बारिश के चलते तापमान भी घटेगा और सर्दी भी बढ़ेगी
इस बारिश के चलते तापमान भी घटेगा और सर्दी भी बढ़ेगी

दिल्ली (Delhi) के अलावा राजस्थान, पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में भी अच्छी बारिश (Rain) दर्ज की गई है. जानकार इस बारिश का कारण भी पश्चिम में होने वाली गतिविधियों को बता रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 16, 2020, 12:53 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. गंभीर वायु प्रदूषण (Air Pollution) से जूझ रही दिल्ली को रविवार को खासी राहत मिली है. राजधानी के कई इलाकों में जमकर बारिश हुई. खास बात है कि दिवाली के दिन शहर में हवा की क्वालिटी बहुत ही गंभीर स्तर पर थी. जानकार इसका कारण पड़ोसी राज्यों में पराली जलाए जाने और पटाखों को बता रहे थे. हालांकि, राज्य में भले ही पटाखा बैन (Firecrackers Ban) है, लेकिन शहर में कहीं-कहीं पटाखों की गूंज सुनाई दी थी. गौरतलब है कि मौसम विभाग ने पहले ही पश्चिमी गतिविधियों के कारण रविवार को हल्कि बारिश की संभावना जताई थी.

मौसम विभाग के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा था कि अभी यह देखना बाकी है कि यह बारिश प्रदूषण के कारकों को हटाने के लिए काफी होगी या नहीं. हालांकि, विभाग ने उम्मीद जताई थी कि रविवार को दिल्ली में प्रदूषण की स्थिति बेहतर होने की संभावना है. एनवायरमेंट एंड रिसर्च सेंटर के प्रमुख डॉक्टर विजय कुमार सोनी ने कहा कि आने वाले दो-तीन दिनों में एयर क्वालिटी इंडेक्स 'खराब' स्थिति में ही रहेगा, लेकिन हवा प्रदूषण की स्थिति में सुधार होना शुरू हो जाएगा. गौरतलब है कि दिल्ली के आरके पुरम में शाम 5 बजे एक्यूआई 219 पर था. जबकि, आनंद विहार में यह आंकड़ा 222 पर था. राजधानी में हवा की स्थिति सुधारने के लिए नगर निगम लगातार गाड़ियों के जरिए पानी का छिड़काव कर रही है. ऐसे में अच्छी बारिश का होना बेहतर माना जा रहा है.
दूसरे राज्यों में भी हुई बारिशदिल्ली के अलावा राजस्थान, पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में हल्की बारिश देखी गई. जानकार इस बारिश का कारण भी पश्चिम में होने वाली गतिविधियों को बता रहे हैं. मौसम का अनुमान लगाने वाली एजेंसी स्कायमेट वेदर के मुताबिक, दिवाली की रात से ही पंजाब, हरियाणा और उत्तर राजस्थान के कुछ हिस्सों में भी हवा की दिशा में मामूली बदलाव आया है.

मौसम विभाग में वैज्ञानिक आनंद शर्मा ने कहा 'इस बारिश का कारण पश्चिम में होने वाली गतिविधियां हैं. ये गतिविधियां हिमालय पर असर डाल रही हैं. पहाड़ियों पर जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में तेज से मध्यम बारिश दर्ज की गई है. पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और उत्तर पश्चिमी राजस्थान, उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सो में तूफान और ओले गिरे हैं.'



राजस्थान की बात की जाए तो यहां रविवार को जयपुर और बारां में तेज आंधी के साथ बारिश शुरू हो गई थी. वहीं, जयपुर के कुछ हिस्सों में ओले भी गिरे. इसके अलावा, झुंझनूं, सीकर जिले में भी अच्छी बारिश हुई. खास बात है कि मौसम विभाग ने कोटा, बारां, भरतपुर, अलवर, झुंझनूं, सीकर, सवाई माधोपुर, टोंक, धौलपुर, जयपुर, हनुमानगढ़, चूरू, श्रीगंगानगर के लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है.

मौसम विभाग ने होडल, पलवल, बल्लभगढ़, हिसार, नरवाना, हांसी, जींद, साफीदों, पानीपत, कैथल, करनाल समेत हरियाणा के कुछ इलाकों में बिजली के साथ हल्की बारिश का अनुमान लगाया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज