• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • करीब 9000 करोड़ रुपये की हेरोइन तस्करी का मामला, गिरफ्तार 5 आरोपियों में 2 अफगान मूल के

करीब 9000 करोड़ रुपये की हेरोइन तस्करी का मामला, गिरफ्तार 5 आरोपियों में 2 अफगान मूल के

हेरोइन तस्करी मामले में अबतक कुल पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है. (सांकेतिक तस्वीर)

हेरोइन तस्करी मामले में अबतक कुल पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है. (सांकेतिक तस्वीर)

Heroin Seize Gujarat Port: डीआरआई के अधिकारी के मुताबिक नशे की यह खेप हैदराबाद के विजयवाड़ा में स्थित आशी ट्रेडिंग कंपनी के द्वारा आयात किए गए समान के अंदर छुपाकर लाया गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

नई दिल्ली. केंद्रीय खुफिया निदेशालय यानी डीआरआई (Directorate of Revenue Intelligence) ने एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए सोमवार को तीन अन्य आरोपियों को गिरफ्तार किया है. करीब 9000 करोड़ से ज्यादा हेरोइन की तस्करी मामले में अबतक कुल पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है. डीआरआई के वरिष्ठ सूत्रों के मुताबिक गिरफ्तार तीन आरोपियों में से दो आरोपी अफगानिस्तान (Afganistan) मूल के हैं, जिससे डीआरआई की टीम इस मामले से जुड़े तमाम कनेक्शन पर विस्तार से पूछताछ कर रही है. सोमवार शाम को एक गोदाम से तफ़्तीश के दौरान करीब 25 किलोग्राम और हेरोइन को जब्त किया गया है.

अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद करीब 3000 किलोग्राम हेरोइन की तस्करी
केंद्रीय जांच एजेंसी डीआरआई के सूत्रों के मुताबिक अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद हीरोइन की जो कंसाइनमेंट गुजरात के मुंद्रा पोर्ट पर भेजी गई थी, उसमें से करीब 3000 किलोग्राम हीरोइन को जब्त कर लिया गया है. इस मसले में तालिबान से जुड़े लोगों की भूमिका को भी भारतीय जांच एजेंसी तफ़्तीश करने में जुटी है.

अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्‍ध हालात में मौत, मौके से मिला सुसाइड नोट

अफगानिस्तान में 15 अगस्त को तालिबान द्वारा कब्जा किया गया था, उसके बाद जिस तरह से अफगानिस्तान और ईरान के रास्ते नशे का ये कारोबार चल रहा है, ये भारत और भारत की जांच एजेंसियों के लिए बेहद महत्वपूर्ण हो गया है क्योंकि जांच एजेंसियों के सूत्रों का ऐसा कहना है कि तालिबान कम समय में ज्यादा से ज्यादा पैसे कमाने के लिए कुछ भी करने के लिए तैयार है.

‘ब्यूरोक्रेसी कुछ नहीं होती, चप्पल उठाने वाली होती है ब्यूरोक्रेसी,’ उमा भारती का Video वायरल

DRI के वरिष्ठ सूत्रों के मुताबिक यह हीरोइन कंधार (Kandahar) से हसन हुसैन लिमिटेड नाम की कंपनी से आयात किया गया था ,आयात (Import ) करने के वक्त में यह बताया गया था इस कंसाइनमेंट में टेलकम पाउडर (Talcum Powder) है, इस कंसाइनमेंट को अफगानिस्तान से टैल्क पत्थरों के नाम पर आयात करने का दावा किया गया था, जिसे ईरान (Iran) की बंदर अब्बास पोर्ट से गुजरात (Gujarat) की मुंद्रा पोर्ट के लिए भेजा गया था.

सुकांता मजूमदार बने बंगाल भाजपा के नए अध्यक्ष, दिलीप घोष को मिली नई जिम्मेदारी

डीआरआई के अधिकारी के मुताबिक नशे की यह खेप हैदराबाद के विजयवाड़ा में स्थित आशी ट्रेडिंग कंपनी के द्वारा आयात किए गए समान के अंदर छुपाकर लाया गया था, लेकिन DRI की विशेष खुफिया विंग को इस मसले की जानकारी हुई और फिर इस ऑपरेशन को अंजाम दिया गया.

डीआरआई के अधिकारियों ने शुरुआती तफ़्तीश के दौरान 2,988 किलोग्राम हेरोइन बरामद किया और दो लोगों को गिरफ्तार किया गया. जो एक कपल हैं और वो दोनों मूल रूप से चेन्नई के रहने वाले हैं. इस कपल के पास ही आयत-निर्यात का लाइसेंस था, जिसका इस्तेमाल हेरोइन की अवैध तस्करी के लिए किए जाने का आरोप है. लिहाजा इस मामले की भी आगे की तफ़्तीश की जा रही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज