Home /News /nation /

बाबरी मस्जिद विध्वंस की 29वीं बरसी, अयोध्या में हाई अलर्ट, सुरक्षा के कड़े इतंजाम

बाबरी मस्जिद विध्वंस की 29वीं बरसी, अयोध्या में हाई अलर्ट, सुरक्षा के कड़े इतंजाम

6 दिसंबर यानी बाबरी मस्जिद विध्वंस की बरसी को देखते हुए अयोध्या हुई हाई अलर्ट. अयोध्या आने वाले सभी प्रवेश द्वारों पर हो रही है वाहनों की चेकिंग.

6 दिसंबर यानी बाबरी मस्जिद विध्वंस की बरसी को देखते हुए अयोध्या हुई हाई अलर्ट. अयोध्या आने वाले सभी प्रवेश द्वारों पर हो रही है वाहनों की चेकिंग.

Ayodhya On High Alert Ahead Of 29Th Anniversary Of Babri Masjid Demolition: 6 दिसंबर को बाबरी मस्जिद विध्वंस की 29वीं बरसी को ध्यान में रखते हुए अयोध्या में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है. इस दिन किसी भी तरह का सांप्रदायिक टकराव न हो इसके लिए जिले में सतर्कता बढ़ा दी गई है और सुरक्षाबल लगातार यहां मुस्तैद हैं.

अधिक पढ़ें ...

    फैजाबाद: अयोध्या (Ayodhya) में बाबरी मस्जिद विध्वंस (Babri Masjid Demolition) की 29वीं बरसी को लेकर हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है. 6 दिसंबर 1992 में कारसेवकों ने विवादित ढांचे को गिरा दिया था. इस मामले में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के फैसले के बाद ना तो बाबरी विध्वंस वर्षगांठ अयोध्या में मनाई जाती है ना हिन्दू समुदाय इसे लेकर उत्सव मनाता है. हालांकि इस दिन किसी भी तरह का सांप्रदायिक टकराव न हो इसके लिए जिले में सतर्कता बढ़ा दी गई है और सुरक्षाबल लगातार यहां मुस्तैद हैं.

    जुलाई 2020 में सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए अयोध्या विवाद को खत्म कर दिया था. इसमें रामजन्म भूमि कॉम्प्लेक्स भगवान श्रीराम के मंदिर निर्माण के लिए दिया गया था. वहीं 5 एकड़ जमीन सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड को मस्जिद निर्माण के लिए दी गई थी. राम मंदिर ट्रस्ट की ओर से मंदिर का निर्माण कार्य जारी है जिसका शिलान्यास पीएम मोदी ने किया था. वहीं मस्जिद निर्माण के लिए दी गई जमीन पर अयोध्या विकास प्राधिकरण नक्शे को पास करने का काम अंतिम चरण में है.

    यह भी पढ़ें: पशु तस्करों से घूस लेकर तस्करी करने की छूट देते हैं पुलिसकर्मी, कर्नाटक गृहमंत्री का वायरल हुआ वीडियो

    इस मामले में बाबरी मस्जिद से जुड़े पक्षों ने कहा कि अब 6 दिसंबर को काला दिवस मनाने की जरुरत नहीं है. बाबरी मस्जिद के मुद्दई इकबाल अंसारी ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले का समर्थन करते हुए कहा कि, सर्वोच्च न्यायालय ने पिछले साल यह फैसला सुनाया था और हम सब इसे स्वीकार करते हैं.

    वहीं अयोध्या में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पुलिस अधीक्षक आर के चतुर्वेदी ने कहा कि अयोध्या शुरू से एक संवेदनशील मुद्दा रहा है इसलिए हम नियमित चेकिंग व पेट्रोलिंग कर रहे हैं. शहर के हर इलाके में जवानों को तैनात किया गया है.

    Tags: Ayodhya, Babri demolition

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर