Home /News /nation /

हिमाचल प्रदेश: 24 घंटे तक मलबे में दबा रहा शख्‍स, NDRF ने सुरक्षित निकाला

हिमाचल प्रदेश: 24 घंटे तक मलबे में दबा रहा शख्‍स, NDRF ने सुरक्षित निकाला

सोलन में एक शख्स को नेशनल डिजास्टर रिलीफ फोर्स (एनडीआरएफ) ने सुरक्षित जिंदा बाहर निकाला.

सोलन में एक शख्स को नेशनल डिजास्टर रिलीफ फोर्स (एनडीआरएफ) ने सुरक्षित जिंदा बाहर निकाला.

सोलन में एक शख्स को नेशनल डिजास्टर रिलीफ फोर्स (एनडीआरएफ) ने सुरक्षित जिंदा बाहर निकाला.

    हिमाचल प्रदेश के सोलन में एक शख्स को नेशनल डिजास्टर रिलीफ फोर्स (एनडीआरएफ) ने सुरक्षित जिंदा बाहर निकाला. मलबे से निकाला गया शख्‍स 24 घंटे तक मलबे के नीचे दबा हुआ था.

    सुन्दरनगर का रहनेवाला सनी सोलन में एक निर्माणाधीन स्थल पर जेसीबी वाहन का ड्राइवर था. गुरुवार को भूस्‍खलन के चलते वह मलबे के बीच दब गया और गहरे गड्ढ़े के बीच फंस गया. बचाव और राहत कार्य के लिए एनडीआरएफ को बुलाया गया.

    मलबा इस तरह से सनी के ऊपर था कि अगर एक चीज हटाई जाती तो दूसरी भारी चीज उसके ऊपर गिर जाती. इससे राहत कार्य के दौरान सावधानी बरतने की भी जरूरत थी. एनडीआरएफ ने बचाव के विशेष औजार मंगाए और पहले ऊपर की भारी चीजों को हटाया गया.

    इसके बाद बाकी का सामान हटाया जाने लगा. इस प्रक्रिया में पूरा दिन लग गया. आखिरकार करीब 24 घंटे बाद शुक्रवार सुबह 6 बजे सनी मलबे से निकाला जा सका.

    सनी के शरीर के अंदर मिट्टी घुस गई और सिर पर भी चोट आई है. इसके अलावा कई जगह फ्रैक्चर भी है. सनी को फिलहाल अस्पताल में भर्ती कराया गया है, उसकी हालत खतरे से बाहर है.

    एनडीआरएफ के इस आपरेशन में करीब 10 जवान शामिल थे. इनके पास ड्रिल मशीन, कैमरा, कटर और प्राथमिक उपचार देने के लिये फर्स्ट एड किट शामिल थी.

    ये भी पढ़ें

    भारी चट्‌टान के नीचे फंसे चालक को 16 घंटे बाद किया गया रेस्क्यू
    संयोग या इत्तेफाक : मंडी के कोटरोपी पर ‘13’ का फेर, हर 20 साल बाद यहां होता है भूस्खलन!
    LIVE VIDEO : कुल्लू में रोडवेज बस खाई में लुढ़की, 4 की मौत, 14 घायल

    Tags: Himachal pradesh

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर