लाइव टीवी

हिंदुओं को दास मानसिकता छोड़ने की ज़रूरत: RSS

भाषा
Updated: July 14, 2018, 10:21 PM IST
हिंदुओं को दास मानसिकता छोड़ने की ज़रूरत: RSS
आरएसएस के महासचिव भैयाजी जोशी ने कहा है कि हिंदुओं को दास मानसिकता और आत्मकेंद्रित होना छोड़ना चाहिए

आरएसएस के महासचिव भैयाजी जोशी ने कहा है कि हिंदुओं को दास मानसिकता और आत्मकेंद्रित होना छोड़ना चाहिए

  • Share this:
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के महासचिव भैयाजी जोशी ने कहा है कि हिंदुओं को दास मानसिकता और आत्मकेंद्रित होना छोड़ना चाहिए और उन्हें एकजुट होकर देश, धर्म और समाज के लिए काम करने की ज़रूरत है. जोशी ने इसको लेकर भी असंतोष जताया कि हिंदू समाज विभिन्न मत और सम्प्रदायों में बंटा हुआ है.

ये भी पढेंः नये कलेवर और तैयारी के साथ RSS को टक्कर देगा सेवादल: यूपी कांग्रेस

जोशी ने कहा, ‘‘हिंदू दर्शन इस सिद्धांत पर आधारित है कि सभी को जीने का अधिकार है. यह हिंदू समाज की ताकत है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हालांकि हिंदू समाज अलग-अलग मत और सम्प्रदायों में बंटा हुआ है लेकिन हमें देश में सभी हिंदुओं के बीच समानता लाने की कोशिश करनी चाहिए.’’



ये भी पढेंः प्रणब मुखर्जी के बाद RSS प्रमुख के साथ मंच साझा करेंगे रतन टाटा



जोशी शुक्रवार को गिर सोमनाथ जिले के सोमनाथ नगर में समाजिक सद्भाव बैठक में बोल रहे थे. उन्होंने कहा, ‘‘हिंदू समाज की मौजूदा स्थिति दास मानसिकता जैसी कई बुराइयों के चलते है जिसे हटाने की जरूरत है. हिंदुओं को आत्मकेंद्रित होना छोड़ना चाहिए और उन्हें देश, धर्म और समाज के लिए काम करने की जरूरत है.’’

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 14, 2018, 10:21 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading