अपना शहर चुनें

States

राजनाथ सिंह की पाकिस्तान को चेतावनी, हम तुम्हें चैन से मरने भी नहीं देंगे

समुद्री रास्तों से आतंकी हमले की आशंका के बीच रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने पाक को कड़े संकेत दिए हैं.
समुद्री रास्तों से आतंकी हमले की आशंका के बीच रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने पाक को कड़े संकेत दिए हैं.

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने इस बात की आशंकी जताई है कि समुद्री रास्ते से आतंकी हमले हो सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 27, 2019, 5:17 PM IST
  • Share this:
कोल्लम. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह  (Rajanth singh) ने शुक्रवार को कहा कि पड़ोसी देश के आतंकवादियों द्वारा भारत (India) के समुद्री रास्तों और तटों का इस्तेमाल आतंकवादी हमलों के लिए किए जाने से इनकार नहीं किया जा सकता लेकिन हम तटीय और समुद्री रक्षा के लिए प्रतिबद्ध हैं.

केरल(kerala) के कोल्लम (kollam) में माता अमृतानंदमयी देवी के 66वें जन्मदिन (Mata Amritanandamayi Devi )के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में सिंह ने कहा कि भारत उन्हें चैन से मरने भी नहीं देंगे जो उसे परेशान करेगा.

रक्षा मंत्री पुलवामा हमले के बाद वायु सेना द्वारा बालाकोट में आतंकवादियों को निशाना बनाकर किए गए हमले का हवाला दे रहे थे.



उन्होंने कहा, ‘हम इस बात से इनकार नहीं कर सकते हैं कि हमारे पड़ोसी देश के आतंकवादी हमारे तटों पर बड़े हमले कर सकते हैं जो कि कच्छ से केरल तक फैला है. एक रक्षा मंत्री के तौर पर मैं यह आश्वस्त करना चाहता हूं कि हमारे देश की समुद्री रक्षा पूरी तरह से मजबूत है.'
राजनाथ बोले- हम पूरी तरह प्रतिबद्ध

सिंह ने कहा, 'हम पूरी तरह से तटीय और समुद्री रक्षा के लिए प्रतिबद्ध हैं.'

पुलवामा हमले के संबंध में उन्होंने कहा कि हमारे देश का कोई भी नागरिक हमारे सैनिकों द्वारा दी गई कुर्बानी को नहीं भूल सकता है.'

सिंह ने कहा, 'आप जानते हैं कि पुलवामा हमले के कुछ दिन बाद, हमारी वायु सेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में हमले किए. हम किसी को परेशान नहीं करते हैं लेकिन अगर कोई हमें परेशान नहीं करे तो हम उन्हें चैन से मरने भी नहीं देंगे.'

जो देश सैनिकों की कुर्बानी याद नहीं रखता....

उन्होंने कहा, 'वैसा देश जो अपने सैनिकों की कुर्बानी याद नहीं करता, उसे इस दुनिया में कहीं आदर नहीं मिलता है.'

सिंह ने कहा कि यह न भूलें कि जिन सैनिकों ने देश के लिए कुर्बानी दी, उनके भी माता-पिता हैं. हम उनके साथ खड़े हैं और सैनिकों के परिवारों द्वारा दी गई कुर्बानी का सम्मान करते हैं.'

भाषा इनपुट के साथ

यह भी पढ़ें:  UN बोला - कश्‍मीर मुद्दे को सुलझाने के लिए मध्‍यस्‍थता नहीं चाहते PM मोदी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज