जानिए संयुक्त राष्ट्र की सामाजिक-आर्थिक परिषद के बारे में, जिसे PM मोदी करेंगे संबोधित

जानिए संयुक्त राष्ट्र की सामाजिक-आर्थिक परिषद के बारे में, जिसे PM मोदी करेंगे संबोधित
संयुक्त राष्ट्र की स्थापना द्वितीय विश्व युद्ध के बाद हुई थी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) आज संयुक्त राष्ट्र (United Nations) (यूएन) को संबोधित करेंगे. पीएम मोदी का यह संबोधन संयुक्त राष्ट्र की 75वीं सालगिरह की पूर्व संध्‍या पर न्‍यूयॉर्क (New York) में आयोजित एक कार्यक्रम में होगा. आइए जानते हैं आखिरकार क्या है संयुक्त राष्ट्र की सामाजिक-आर्थिक परिषद.

  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) आज संयुक्त राष्ट्र (United Nations, यूएन) को संबोधित करेंगे. पीएम मोदी का यह संबोधन संयुक्त राष्ट्र की 75वीं सालगिरह की पूर्व संध्‍या पर न्‍यूयॉर्क (New York) में आयोजित एक कार्यक्रम में होगा. भारत का यूएन (सुरक्षा परिषद) का अस्थायी सदस्य बनने के बाद पीएम मोदी का यह पहला संबोधन होगा. आइए जानते हैं आखिरकार क्या है संयुक्त राष्ट्र की सामाजिक-आर्थिक परिषद.

क्या है संयुक्त राष्ट्र?
संयुक्त राष्ट्र ( United Nations) एक अंतरराष्ट्रीय संगठन है. इस अंतरराष्ट्रीय संगठन का उद्देश्य अंतरराष्ट्रीय कानून को सुविधाजनक बनाने के सहयोग, अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा, आर्थिक विकास, सामाजिक प्रगति, मानव अधिकार और वैश्विक स्तर पर शांति कायम रखना है. संयुक्त राष्ट्र की स्थापना 24 अक्टूबर, 1945 में हुई थी. इस दिन संयुक्त राष्ट्र अधिकार पत्र पर 50 देशों ने हस्ताक्षर किए थे.

क्यों हुई थी संयुक्त राष्ट्र की स्थापना
संयुक्त राष्ट्र की स्थापना द्वितीय विश्व युद्ध के बाद हुई थी. दरअसल, द्वितीय विश्व युद्ध के बाद वैश्विक स्तर पर काफी अशांति फैल गई थी. सभी देश एक-दूसरे के दुश्मन बन बैठे थे. इसके बाद युद्ध जीतने वाले देशों ने एक ऐसा संगठन बनाने का प्रस्ताव रखा जो वैश्विक स्तर पर शांति बनाए रखे और संयुक्त राष्ट्र की स्थापना की गई. 24 अक्टूबर 1945 में 50 देशों ने एक पत्र पर हस्ताक्षर किए और विश्व स्तर पर शांति बनाए रखने का वादा किया. न्यूयॉर्क शहर में संयुक्त राष्ट्र का मुख्यालय है और इसके जिनेवा, वियना और नैरोबी में क्षेत्रीय कार्यालय भी हैं. इसकी आधिकारिक भाषाएं अरबी, चीनी, अंग्रेजी, फ्रेंच, रूसी और स्पेनिश हैं.



क्या है संयुक्त राष्ट्र का उद्देश्य
संयुक्त राष्ट्र संगठन का मुख्य उद्देश विश्व में शांति को बनाए रखना है. इसके अलावा सभी देशों के बीच रिश्तों को बेहतर बनाना, गरीब, भूखे लोगों की मदद करना. गरीब देशों की स्थिति को बेहतर करना. दुनिया के सभी देशों को उनके लक्ष्य को प्राप्त करने में मदद करना संयुक्त राष्ट्र का मुख्य उद्देश्य है.

कौन से देश हैं संयुक्त राष्ट्र के सदस्य
1945 में संयुक्त राष्ट्र के सदस्य महज 50 देश थे. वक्त के साथ कई और देश इस संगठन के सदस्य बने और वर्तमान में इसके सदस्य देशों की संख्या 193 है. अमेरिका, यूनाइटेड किंगडम, फ्रांस, रूस और चीन सुरक्षा परिषद के स्थायी सदस्य हैं. इसके अलावा 10 अस्‍थायी सदस्‍य होते हैं. इसमें से आधे हर साल दो साल के लिए चुने जाते हैं.

बात अगर भारत की जाए तो यह दो साल के लिए सुरक्षा परिषद का अस्‍थायी सदस्‍य चुना गया है. भारत के पक्ष में 192 में से 184 वोट पड़े थे. भारत का पिछला कार्यकाल 1 जनवरी, 2021 को खत्‍म होना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज