लाइव टीवी

आज का इतिहास: रानी लक्ष्‍मीबाई को झांसी छोड़कर जाना पड़ा था काल्‍पी से ग्‍वालियर

News18Hindi
Updated: April 4, 2020, 1:42 PM IST
आज का इतिहास: रानी लक्ष्‍मीबाई को झांसी छोड़कर जाना पड़ा था काल्‍पी से ग्‍वालियर
आज ही के दिन रानी लक्ष्‍मीबाई को अंग्रेजों से युद्ध में पीछे हटकर काल्‍पी होते हुए ग्‍वालियर जाना पड़ा था.

साल के हर दिन का अपना अलग महत्‍व है, जो इतिहास (History) बन जाता है. हर दिन दुनिया में कुछ ना कुछ ऐसा जरूर घटा है जो जानना जरूरी होता है. आज हम आपको बता रहे हैं 4 अप्रैल को दुनिया में हुई कुछ अहम घटनाएं...

  • Share this:
इतिहास में 4 अप्रैल का दिन (Today's history) कई बड़ी घटनाओं के लिए पहचाना जाना है. भारत (India) के नजरिये से देखें तो इस तारीख का बड़ा संबंध झांसी की रानी लक्ष्‍मीबाई (Rani Laxmibai) से है. लक्ष्‍मीबाई को 4 अप्रैल 1858 को ह्ययूज रोज के नेतृत्व में पहुंची ब्रिटिश सेना के खिलाफ भीषण संघर्ष के बाद झांसी छोड़ना पड़ा था. वह अंग्रेजों से डटकर मुकाबला करने के बाद झांसी से निकलकर काल्पी पहुंचीं. फिर वहां से ग्वालियर के लिए निकल पड़ी थीं. इसके अलावा अमेरिकी आंदोलनकारी मार्टिन लूथर किंग जूनियर (Martin Luther King Jr.) की आज ही के दिन 1968 में मेमफिस के एक मोटेल में गोली मारकर हत्या (Killed) कर दी गई थी. उन्‍होंने अफ्रीकी-अमेरिकी नागरिकों के अधिकारों के लिए आंदोलन में अहम भूमिका निभाई थी. किंग महात्मा गांधी से बेहद प्रेरित थे. उन्होंने अपनी भारत यात्रा को तीर्थयात्रा जैसा बताया था. आइए जानते हैं इतिहास (History) में 4 अप्रैल को कौन-कौन सी बड़ी घटनाएं हुई थीं....

1460: स्विट्जरलैंड में बेसल यूनिवर्सिटी की स्थापना आज ही के दिन हुई थी.
1716: उत्तरी जर्मनी के विस्मार पर रूस और प्रशिया की सेनाओं ने कब्जा किया.
1722: जेकब रोजरविन ने पूर्वी आयरलैंड की खोज की.



1768: फिलिप एस्ले ने माडर्न सर्कस का पहला शो पेश कियाः
1769: हैदर अली ने पहले ऐंग्लो-मैसूर युद्ध में शांति की शर्तें तय कींः


1818: अमेरिकी कांग्रेस ने राष्ट्रध्वज में 13 लाल और सफेद स्ट्रिप्स के साथ 20 सितारे शामिल करने को मंजूरी दी.
1905: भारत की कांगड़ा घाटी में भूकंप से 20,000 लोगों की मौत हुई थी.

अमेरिकी सीनेट ने 4 अप्रैल 1916 को प्रथम विश्व युद्ध में हिस्सा लेने को मंजूरी दी थी.


1941: लीबिया के बेनगाजी शहर पर जर्मनी की सेना ने कब्जा किया.
1944: ब्रिटिश सेना ने इथोपिया के आदिश अबाबा पर कब्जा किया.
1944: द्वितीय विश्व युद्ध में ऐंग्लो अमेरिकी सेना की बुखारेस्ट में तेलशोधन संयंत्रों पर पहली बमबारी में 3,000 नागरिकों की मौत हुई.
1968: नासा ने अपोलो 6 का प्रक्षेपण किया.
1975: बिल गेट्स और पॉल एलेन के बीच भागीदारी से न्यू मैक्सिको के अलबकर्क में माइक्रोसॉफ्ट की स्थापना हुई.
1979: पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री जुल्फिकार अली भुट्टो को मौत की सजा सुनाई गई.
1983: अंतरिक्ष शटल चैलेंजर ने अपनी पहली उड़ान भरी.
2006: इराक के अपदस्थ राष्ट्रपति सद्दाम हुसैन पर नए आरोप लगे.
2013: महाराष्ट्र के ठाणे में अवैध इमारत गिरने से 80 लोग मारे गए.

4 अप्रैल को जन्मे व्यक्ति
1889: हिंदी कवि, लेखक, नाटककार और पत्रकार माखनलाल चतुर्वेदी का जन्म मध्य प्रदेश में हुआ.
1904: बॉलीवुड सिंगर और एक्‍टर कुंदन लाल सहगल का जन्म आज ही दिन हुआ था.
1922: अमेरिकी संगीतकार एलमर बर्नस्टाइन का जन्म हुआ.
1949: बॉलीवुड अभिनेत्री परवीन बॉबी का जन्म गुजरात के जुनागढ़ में हुआ.
1972: भारतीय अभिनेत्री एवं फैशन मॉडल लीसा रे का जन्म हुआ.
4 अप्रैल को हुए निधन
1987: हिन्दी साहित्यकार सच्चिदानंद हीरानन्द वात्स्यायन 'अज्ञेय' का निधन.
1995: भारत की प्रसिद्ध समाजसेवी, स्वतंत्रता सेनानी और शिक्षाविद हंसा मेहता का निधन.

ये भी देखें:

Coronavirus: आईआईटी रुड़की ने बनाया कम कीमत वाला पोर्टेबल वेंटिलेटर, जानें खासियत

क्या वाकई उत्तर कोरिया में नहीं फैला कोरोना वायरस, जानें क्या है सच्चाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 4, 2020, 1:41 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading