Home /News /nation /

जम्मू ग्रेनेड हमले में सामने आया हिजबुल मुजाहिदीन का नाम, ऐसे रची गई थी साजिश

जम्मू ग्रेनेड हमले में सामने आया हिजबुल मुजाहिदीन का नाम, ऐसे रची गई थी साजिश

जम्मू ग्रेनेड ब्लास्ट में एक की मौत, ब्रिटेन के NSA ने अजीत डोभाल से की बातचीत

जम्मू ग्रेनेड ब्लास्ट में एक की मौत, ब्रिटेन के NSA ने अजीत डोभाल से की बातचीत

14 फरवरी को पुलवामा में हुए हमले के बाद जम्मू में अलर्ट जारी था. जम्मू के भीड़-भाड़ वाले इलाकों में काफी सुरक्षा थी लेकिन इसके बावजूद बस अड्डे पर ग्रेनेड ब्लास्ट हो गया.

    जम्मू के बस अड्डे पर ग्रेनेड हमला हिजबुल मुजाहिदीन ने किया था. जम्मू कश्मीर पुलिस ने इस बात की पुष्टि की है. पुलिस का कहना है कि यासिर भट्ट को कुलगाम में हिजबुल मुजाहिदीन के जिला कमांडर फारूक अहमद भट्ट उर्फ ​​उमर द्वारा इस ग्रेनेड को फेंकने का काम सौंपा गया था. जिस आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है उसने अपना गुनाह भी कुबूल कर लिया है.

    बता दें कि जम्मू के बस अड्डे पर ग्रेनेड ब्लास्ट में एक शख्स की मौत हो गई है, जबकि इसमें 30 से ज्यादा लोग जख्मी हो गए हैं. पहले माना जा रहा था कि इस घटना के पीछे कई आतंकी शामिल हो सकते हैं.

    ग्रेनेड ब्लास्ट में आतंकियों का हाथ होने की आशंका के बाद ब्रिटेन के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने अजीत डोभाल से बातचीत की है. ब्रिटेन के NSA ने अजीत डोभाल को आतंक के खिलाफ लड़ाई में साथ खड़े रहने का भरोसा दिया है.



    साथ ही जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्य पाल मलिक ने जम्मू जिले के बस स्टैंड पर ग्रेनेड हमले की निंदा की है. उन्होंने मृतक के परिजनों को 5 लाख रुपये का मुआवजा और घटना में घायल हुए लोगों को 20,000 रुपये का मुआवजा देने की घोषणा भी की है.



    आपको बता दें 14 फरवरी को पुलवामा में हुए हमले के बाद जम्मू में अलर्ट जारी था. जम्मू के भीड़-भाड़ वाले इलाकों में काफी सुरक्षा थी लेकिन इसके बावजूद बस अड्डे पर ग्रेनेड ब्लास्ट हो गया. इस घटना के बाद सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठाए जा रहे हैं. डीजी सीआईएसएफ ने जानकारी दी है कि सभी यूनिट की सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

    जम्‍मू का बस स्‍टैंड पिछले काफी समय से हमलावरों के निशाने पर है. पिछले दस महीने के अंदर ये तीसरा बड़ा धमाका है जो बस स्‍टैंड के पास हुआ है. पिछले साल 24 मई को जम्‍मू के बस स्‍टैंड के पास ग्रेनेड से हमला किया गया था. इस हमले में दो पुलिसकर्मी और एक आम नागरिक गंभीर रूप से घायल हो गए थे. ग्रेनेड फेंकने वाला आतंकी हमला करने के बाद वहां से फरार हो गया था. इसके बाद 29 दिसंबर 2018 को भी जम्‍मू के बस स्‍ट्रैंड के पास धमाका किया गया था. ये धमाका क्‍योंकि रात में किया गया था इसलिए इसमें किसी को भी नुकसान नहीं हुआ था. पुलिस जांच में पता चला था कि हमलावरों ने पुलिस थाने को निशाना बनाते हुए हमला किया था.

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास,सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    Tags: Ajit Doval, Jammu kashmir, Jammu kashmir news, Pulwama attack, Trending news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर