Assembly Banner 2021

शाह का ममता पर वार, आपके पैर के दर्द को लेकर चिंतित, क्या आपको BJP कार्यकर्ताओं की हत्या का दर्द है?

अमित शाह

अमित शाह

West Bengal Assembly Elections: शाह ने कहा कि लोगों ने टीएमसी को मां, माटी, मानुष की सरकार बनाने के लिए चुना था, उन्हें उम्मीद थी कि राजनीतिक हिंसा खत्म होगी, लेकिन इसके विपरीत हुआ.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 15, 2021, 4:21 PM IST
  • Share this:
कोलकाता. गृहमंत्री अमित शाह सोमवार (Home Minister Amit Shah) को पश्चिम बंगाल के बांकुरा जिले के रानीबांध पहुंचे. शाह ने रानीबांध में रैली को संबोधित करते हुए भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या का मुद्दा उठाया. गृह मंत्री ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (CM Mamata Banerjee) के पैर में लगी चोट को साजिश बता रही है. चुनाव आयोग का तो कहना है कि ये सिर्फ एक्सिडेंट था. शाह ने कहा, "दीदी आप व्हील चेयर से इधर-उधर घूम रही हैं. मैं आपके पैर के दर्द को लेकर चिंतित हूं. मगर क्या आपको बीजेपी के 130 कार्यकर्ताओं की हत्या का दर्द भी है?"

गृह मंत्री ने कहा कि बंगाल में हम आशा करते थे कि यहां से कम्युनिस्ट शासन जाने के साथ ही राजनीतिक हिंसा समाप्त हो जाएगी. मगर TMC की सरकार ने तो कम्युनिस्टों को भी अच्छा कहलवा दिया. राजनीतिक हिंसा और बढ़ गयी. 130 से ज्यादा भाजपा कार्यकर्ता मार दिए गए. शाह ने कहा कि लोगों ने टीएमसी को मां, माटी, मानुष की सरकार बनाने के लिए चुना था, उन्हें उम्मीद थी कि राजनीतिक हिंसा खत्म होगी, लेकिन इसके विपरीत हुआ. हिंसा और भ्रष्टाचार बढ़ गया, जनजातियों को सर्टिफिकेट के लिए 100 रुपये देने पड़ते हैं. भाजपा की सरकार आने के बाद किसी भी आदिवासी को सर्टिफिकेट के लिए पैसे नहीं देने पडे़ंगे.

ये भी पढ़ें- SC ने पूछा- ज्यादा तादाद में हो NOTA तो क्या कैंसिल कर देना चाहिए चुनाव?



बंगाल को बनाएंगे सोनार बांग्ला
शाह ने कहा कि एक समय था देश की जीडीपी में 25 प्रतिशत भागीदारी बंगाल की होती थी, जो कि अब अभूतपूर्व तरीके से नीचे गिरी है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने वादा किया है कि वह सोनार बांग्ला बनाएंगे और सभी को आधुनिक आवास दिए जाएंगे. गृह मंत्री ने कहा कि पश्चिम बंगाल में भाजपा की सरकार बनने के बाद 49 वन उत्पाद खरीदेगी, जिनसे उन्हें आर्थिक मदद मिलेगी. हमने तय किया है कि हम 39,000 हेक्टेयर भूमि को पानी की आपूर्ति करेंगे.

अमित शाह ने कहा, "जो सरकार तुष्टिकरण करती है, वो सरकार नहीं चाहिए. बंगाल में दुर्गा पूजा करनी है, तो कोर्ट में जाना पड़ता है. आदिवासियों के वन भूमि के अधिकार नरेंद्र मोदी जी देना चाहते हैं, लेकिन टीएमसी के गुंडे इसके लिए भी भ्रष्टाचार कर रहे हैं."

गृह मंत्री ने कहा, "मैं आपसे वादा करता हूं कि आप मोदी जी के नेतृत्व में सरकार बना दीजिए. फॉरेस्ट राइट कानून का फायदा अफसर आपको घर आकर पहुंचाएंगे."

ये भी पढ़ें- सदन में गूंजा रिश्वत में अस्मत मांगने का मामला, विपक्ष ने मांगा सरकार से जवाब

शाह ने कहा कि बांकुरा में पीने के पानी की कमी है. हमने तय किया है कि यहां सरकार बनाने के बाद, बांकुरा और झारग्राम में जल्द से जल्द पेयजल कनेक्शन दिए जाएंगे. जल शक्ति मंत्रालय ने डब्ल्यूबी के लिए 993 करोड़ रुपये भेजे, जिसमें केवल 121 करोड़ रुपये राज्य सरकार ने इस्तेमाल किए. गृह मंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने आदिवासी छात्रों के उत्थान और शिक्षा के लिए हर ब्लॉक में एकलव्य स्कूल बनाने का भी फैसला किया है. लेकिन बंगाल में इसे लागू नहीं किया जा रहा है.

अमित शाह ने कहा कि "तृणमूल सरकार ने बंगाल का पतन किया है. अब समय आ गया है, सोनार बांग्ला बनाने का. अब समय आ गया है, आदिवासी बच्चों को घर पर ही नौकरियां दिलाने का. इसके लिए बंगाल में भाजपा सरकार बनानी होगी."
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज