Home Minister Amit Shah Exclusive Interview: गृहमंत्री अमित शाह ने कहा- राहुल जी एक योजना लेकर घूम रहे, प्रवासियों के लिये हमने कई व्यवस्थाएं कीं

Home Minister Amit Shah Exclusive Interview: गृहमंत्री अमित शाह ने कहा- राहुल जी एक योजना लेकर घूम रहे, प्रवासियों के लिये हमने कई व्यवस्थाएं कीं
देश के गृहमंत्री अमित शाह का न्यूज 18 नेटवर्क समूह के एडिटर इन चीफ राहुल जोशी के साथ एक्सक्लूसिव इंटरव्यू.

Home Minister Amit Shah Exclusive Interview | गृहमंत्री अमित शाह इंटरव्यू: अमित शाह ने कहा कि प्रवासियों के लिये हमने कई व्यवस्थाएं कीं लेकिन जिन्हें कमियां निकालनी हैं, वे निकालेंगे. राहुल जी एक योजना लेकर घूम रहे हैं.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. देश के गृहमंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) ने न्यूज 18 नेटवर्क समूह (News18 Network) के एडिटर इन चीफ राहुल जोशी (Rahul Joshi) को दिए एक्सक्लूसिव इंटरव्यू (EXCLUSIVE Interview) में कहा कि कोविड-19 के सामने सफलता पूर्वक लड़ाई लड़ना हमारी सबसे बड़ी उपलब्धि है. अब तक केवल सरकारें ये लड़ाई लड़ती थीं. यह पहली बार है कि पीएम मोदी के नेतृत्व में 130 करोड़ की जनता यह लड़ाई लड़ रही है.

1 करोड़ 10 लाख से ज्यादा प्रवासी घर पहुंचे
अमित शाह ने कहा क‍ि 1 करोड़ 10 लाख से ज्यादा लोग अपने घर पहुंचे और कई क्वारंटाइन पूरा कर अपने परिवार के साथ रहने लगे हैं. राज्यों ने रिक्शे घुमाकर लोगों को जागरुक किया और लोग धीरे-धीरे हमारी बात समझ गए. प्रवासियों के लिये हमने कई व्यवस्थाएं कीं लेकिन जिन्हें कमियां निकालनी हैं, वे निकालेंगे. राहुल जी एक योजना लेकर घूम रहे हैं. जिसमें वे सभी के अकाउंट में पैसा डालने की बात करते हैं. हालांकि जनता ने इसे नकार दिया है. मोदी सरकार ने किसानों, वरिष्ठ नागरिकों, विधवाओं के अकाउंट में DBT के तहत सीधे पैसे भेजे हैं.

प्रति लाख आबादी पर 12.6 लोग कोरोना से संक्रमित: अमित शाह
अमित शाह ने कहा कि भारत में प्रति लाख आबादी पर 12.6 लोग कोरोना से संक्रमित हैं. पूरी दुनिया की तुलना में हमने इसे बहुत अच्छे से कंट्रोल किया है. भारत में रिकवरी रेट 42 फीसदी है. अब देश के सभी राज्‍यों के सारे जिलों के अंदर ठीक-ठाक स्वास्थ्य सुविधाएं हैं. जब तक टीका या दवाई नहीं ढूंढ़ी जाती तब तक इस महामारी के साथ जीने की आदत डालनी पड़ेगी. कोरोना के बाद दुनिया में भारत का एक अलग स्‍थान होगा.





क्या सरकार ने लॉकडाउन में जल्दबाजी की? संबंधित सवाल पर अमित शाह ने कहा कि ऐसा कहना उचित नहीं है. ऐसा होता तो भगदड़ मच जाती. उस समय हमारी टेस्टिंग, क्वारंटाइन व्यवस्था अच्छी नहीं थी. दो महीनों में ये व्‍यवस्‍था अच्‍छी हो गई है.

सरकार ने राज्‍यों को दिए 11 हजार करोड़
शाम ने कहा कि 11 हजार करोड़ रुपये राज्य सरकारों को प्रवासियों को खाना खिलाने के लिये दिये गये.
पहले बस सेवा शुरू की गई जिससे 41 लाख श्रमिक भेजे गये. बाद में ट्रेनों से भी श्रमिकों को भेजा गया.
बसें आस-पास के राज्यों के लिये चलाई गई. 41 लाख श्रमिक सरकारी किराये पर भेजे गए. करीब 4000 श्रमिक ट्रेनें चलीं और 55 लाख प्रवासी इससे भेजे गये. सभी का खर्च भारत सरकार और रेलवे ने उठाया.
इस दौरान दो करोड़ लोगों को खाना खिलाया गया. क्वारंटाइन सेंटरों में मजदूरों ने माना कि व्यवस्था सही है.

ये भी पढ़ें:

Exclusive: गृहमंत्री ने चीन, NRC-CAA, प्रवासी मजदूर सहित हर सवाल का दिया जवाब

EXCLISIVE: अमित शाह की देशवासियों से अपील- भारत में बनी चीजों का इस्तेमाल करें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading